Skip to main content

आधार कार्ड पैन कार्ड से लिंक करवाना क्यों जरूरी हो गया है? why PAN Card and Aadhaar Card link is necessary.

नमस्कार आपका हमारे वेब पोर्टल पर बहुत स्वागत है, हमारे इस पोर्टल पर आप Technology और Education से सम्बंधित जानकारी पा सकते हैं। आज के इस लेख में हम आपके लिए लाये हैं आधार कार्ड और पैन कार्ड से सम्बंधित जानकारी दोनों को आपस में लिंक करवाने हेतु। आइये जान लेते हैं की क्या है आधार कार्ड और पैन कार्ड लिंक प्रक्रिया। अगर किसी ने अभी तक अपने पैन/PAN/Personal Account Number को आधार/AADHAAR से लिंक नहीं कराया है तो 31 मार्च 2019 तक आपके पास मौका है। अगर अभी भी आप अपने पैन कार्ड को आधार कार्ड से लिंक नहीं कराते हैं, तो बाद में आपको कराना ही पड़ेगा, लेकिन ये बात जरूर ध्यान रखें की इस बीच आपको काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। अगर किसी ने अपने पैन/PAN को आधार/AADHAAR से लिंक नहीं कराया तो उनको इसके कुछ नुकसान भी हो सकते हैं। इनमे आपको बैंक अकाउंट/Bank account तक के प्रभावित होने का खतरा है। हालांकि पैन/PAN और आधार को लिंक कराना काफी आसान हो गया है। लोग चाहें तो इसे एक सामान्य एसएमएस/SMS/Short Messaging Service भेज कर भी करा सकते हैं। आधार कार्ड और पैन कार्ड लिंकिंग/PAN Card-Aadhaar Card linking के लिए सुप्रीम कोर्ट/Supreme court भी आदेश दे चुका है।  
why PAN Card and Aadhaar Card link is necessary.
Link you Aadhaar card and PAN Card 
ये भी पढ़ें :

आइये जान लेते हैं क्या हो सकते हैं नुकसान 31 मार्च 2019 तक अगर किसी ने अपने पैन नम्बर/PAN को आधार/AADHAAR से लिंक नहीं कराया तो। 
  1. पैन/PAN) नहीं रह जाएगा किसी काम का। 
  2. इनकम टैक्स रिफंड/Income Tax Refund भी नहीं मिलेगा।
  3. इस पैन/PAN) से नहीं हो पाएगा डाटा सर्च। 
  4. बड़े वित्तीय लेनदेन/Financial transaction नहीं कर पाएंगे। 
  5. बैंक अकाउंट हो जाएगा प्रभावित। 
  6. बैंक 20 फीसदी के हिसाब से काटेंगे टीडीएस/TDS। 
  7. इस 20 फीसदी के हिसाब से कटे टीडीएस/TDS पर नहीं मिलेगी टैक्स/tax छूट। 
  8. इनकम टैक्स रिटर्न/income tax return नहीं हो पाएगा फाइल। 
  9. किसी भी तरह का लोन/loan लेने में आएगी दिक्कत। 
  10. वाहन/Vehicle नहीं खरीद पाएंगे। 


आइये अब जान लेते हैं की ये कुछ नुकसान आपको कैसे हो सकते हैं अगर आपने आधार कार्ड और पैन कार्ड को लिंक नहीं करवाया तो। 

आइये समझें कैसे होंगे ये नुकसान : जैसा की आप सभी को पता होगाकी पैन/PAN CARD सभी के बैंक अकाउंट में जुड़ा हुआ है। अगर अब भी आपने 31 मार्च 2019 तक अपने पैन PAN को आधार से लिंक नहीं कराया तो आपका पैन इनवैलिड/invalid हो जाएगा। जैसे ही पैन इनवैलिड होगा, इसका असर सीधे आपके बैंक खाते पर भी पड़ेगा। बैंक खाते/Bank account में जुड़ा पैन नंबर बेकार हो जाएगा, और इसके बाद बैंक ऐसे खातों को बिना पैन का मान कर ही treat करेगा। अगर आपका टीडीएस/TDS कटता है तो बिना पैन के यह 20% की दर से कटने लगेगा। इस टीडीएस/TDS पर आप इनकम टैक्स/Income tax की राहत भी नहीं ले पाएंगे । इसके अलावा भी बैंक/Bank किसी भी तरह के Loan और बड़े वित्तीय लेनदेन के लिए पैन और इनकम टैक्स रिटर्न/income tax return की स्लीप मांगते हैं। अगर ये नहीं होगा तो आप लोन/loan नहीं नहीं ले पाएंगे। साथ ही बिना लोन के कोई भी वाहन खरीदना भी कठिन हो जाएगा।


आइये जान लें किन-किन तरीकों से आप आधार कार्ड और पैन कार्ड को आपसे में लिंक कर सकते हैं। 

किसी भी बैंक में जाकर जहाँ आपका खाता/Account  हो। पैन और आधार को लिंक करवा सकते हैं। इसके लिए आपको अपने बैंक में आधार कार्ड की फोटो कॉपी जमा करवानी होगी। 
आजकल लगभग सभी के पास मोबाइल फोन/mobile phone है, और ये काम मोबाइल फोन से ही 3 तरीकों से किया जा सकता है। पहला है एप/App के माध्यम से और दूसरा है एसएमएस/SMS भेज कर और तीसरा है इनकम टेक्स विभाग की वेबसाइट पर जाकर। 
अगर आपके अपने  बैंक की App को इस्तेमाल करने का तरीका आता है तो भी आप इसके द्वारा आधार कार्ड और पैन कार्ड को खुद लिंक कर सकते हैं। 
आधार कार्ड और पैन कार्ड लिंकिंग के लिए दोनों में नाम और उम्र का विवरण एकसा होना चाहिए पैन/PAN तभी Aadhaar से लिंक कराया जा सकेगा। अगर इन विवरण में कुछ अंतर है तो पैन और की लिकिंग नहीं हो सकती है। ऐसे में आपको पहले पैन या आधार कार्ड में करेक्शन(जरूरी बदलाव) कराना होगा।


अगर दोनों आधार कार्ड और पैन कार्ड का विवरण एकसा हैं तो ऐसे कराएं लिंक सबसे पहले अपने मोबाइल फोन में Link Aadhaar to PAN card नाम का एप डाउनलोड (download) करें। ये एप/App बिलकुल फ्री है। एप डाउनलोड करने के बाद खोलेंगे तो होमपेज पर Link Aadhaar With Pan Card का बटन दिखाई देगा। अब इस ऑप्शन को खोलें। इसके बाद अपना विवरण भरना होगा। इस विवरण में पैन/PAN का नबंर डालना है और उसके बाद आधार नबंर/Aadhaar Number। इसके बाद ये करना होगा इसके बाद आपको एक कैप्चा कोड/captcha code  भरना होगा। इसके लिए Enter the code as in above image लिखा दिखाई देगा। इस कैप्चा कोड को भरने के बाद लिंक आधार/Link Aadhaar बटन को दबाएं। इसके बाद मोबाइल पर आधार पैन लिकिंग प्रोससे कंप्लीट सक्सेस्स्फुल्ली/Aadhaar PAN Linking Is Completed successfully लिखकर आएगा। इसका मतलब होता है कि आपका पैन PAN Card और आधार/Aadhaar card आपस में लिंक हो चुके हैं।


एसएमएस/SMS के माध्यम से लिंकिंग करने का तरीका :  आधार कार्ड और पैन कार्ड लिंक कराने का दूसरा और सबसे आसान तरीका है एसएमएस/SMS के माध्यम से। इसके लिए मोबाइल फोने के मैसेज बॉक्स को खोलें और एक मैसेज टाइप करें जैसे की हम आगे बता रहे हैं। मैसेज इस तरह से लिखें - "UIDPAN----स्पेस----12 अंक का आधार नंबर----स्पेस----10 अंक का पैन नंबर" इस उदहारण से समझें जैसे - UIDPAN 123456789234 ABDDE0125R। ये सब लिखने के बाद इस मैसेज को 567678 या 56161 नबंर पर भेज दें। जैसे ही एसएमएस/SMS आप भेजेंगे, आपका आधार और पैन स्वत लिंक हो जाएगा।


इनकम टैक्स विभाग/Income Tax Department की वेबसाइट पर जाकर भी आप आधार कार्ड और पैन कार्ड को लिंक करवा सकते है। इनकम टैक्स विभाग की वेबसाइट पर जाकर करना क्या है आइये सिख लें, इस वेबसाइट को आप इस लिंक पर क्लीक करके खोल सकते हैं Income Tax Website इस वेबसाइट पर जाकर आप कुछ ही मिनटों में यह काम आसानी से कर सकते हैं। आप इस वेबसाइट पर जाकर ये भी पता कर सकते है की आपका आधार कार्ड और पैन कार्ड लिंक है भी या नहीं। 


हमारे और आर्टिकल पढ़ने के लिए मोबाइल में हमारी पोस्ट ओपन करने के बाद सबसे निचे View Web Version पर क्लीक करें, ताकि आप हमारे बाकि की पोस्ट भी पढ़ सकें।
दोस्तों अगर आपको हमारे द्वारा दी गई जानकरी अच्छी लगी तो, इस आर्टिकल को ज्यादा से ज्यादा लोगो तक Share करे तथा इस आर्टिकल संबंधी अगर किसी का कोई भी सुझाव या सवाल है तो वो हमें जरूर लिखें।

Comments

Popular posts from this blog

आर्मी ऑफिसर कैसे बने। how to become Indian Army officer, what is NDA?

प्यारे बच्चो नमस्कार
में हमारी इस ब्लॉग वेबसाइट पर टेक्नोलॉजी ओर एजुकेशन से संबंधित आर्टिकल लिखता हूँ, ऐसे आर्टिकल जो बच्चों के आने वाले भविष्य में काम आ सकें। हमारे आर्टिकल आपको किसी भी जॉब की पूर्ण जानकारी देने वाले होते हैं। हमारी इस जानकारी के माध्यम से बच्चे सही दिशा का चुनाव कर अपने भविष्य को सफल बना सकते हैं।

आज के इस आर्टिकल में हम बात करने वाले हैं कि आप भारतीय सेना में एक ऑफिसर कैसे बन सकते हैं, बेशक वो थल सेना, वायु सेना या जल सेना ही क्यों न हो। अगर आपमे देश सेवा करने का जज्बा है तो आप इस क्षेत्र का चुनाव कर सकते हैं, ऐसा नही की आपमे देश सेवा का जज्बा हो और आप इसमें जा सकते हैं, इसके लिए आपको बहुत मेहनत भी करनी पड़ेगी। अगर आप पढ़ाई में बहुत अच्छे हैं तभी आप इसमें सेलेक्ट हो सकते हैं। आइये जान लेते हैं NDA क्या है?
NDA यानी "National Defense Academy" ओर हिंदी में इसे "राष्ट्रीय रक्षा अकादमी" कहा जाता है, NDA दुनिया की पहली ऐसी अकादमी है जिसमे तीनो विंगों के लिए प्रशिक्षण दिया जाता है।
आर्मी अफसर कैसे बने!
भारतीय सेना की तीन विंग हैं, army, air force and navel, अ…

Architecture क्या है ? Architect कैसे बने!

दोस्तों नमस्कार, हमारी वेबसाइट/Website LSHOMETECH पर आपका स्वागत है, हम अपने इस Portal पर Technology और Education से सम्बंधित आर्टिकल लिखते हैं, जो आपके लिए ज्ञान और जानकारी के प्रयाय होते है, आज की इस पोस्ट में हम जानेंगे की Architect क्या होता है? कृपया पूरी जानकारी के लिए पूरी पोस्ट को पढ़ें, साथ ही टेक्नोलॉजी से जुडी किसी अन्य जानकारी के लिए आप हमारे वेबसाइट के बाईं/Left और दिए गए दूसरे आर्टिकल भी पढ़ सकते हैं।

आज का जो हमारा विषय है वो है आर्किटेक्ट कैसे बने और आर्किटेक्चर है क्या?  सबसे पहले इन दोनों शब्दों का हिंदी में अगर अनुवाद करे तो  आर्किटेक्चर का मतलब है - वास्तुकला
और  आर्किटेक्ट का मतलब है - वास्तुकार
यदि आपकी भी रुचि आर्किटेक्ट बनने की है, या फिर आपको भी नए-नए प्रारूप /डिजाइन बनाने का शौक है या फिर आप नई-नई इमारतों के बारे में प्लान या नक्शे बनाने का शौक रखते हैं तो आर्किटेक्चर इंजीनियरिंग आपके लिए सबसे बढ़िया रास्ता है जो आपको आपकी मनचाही मंजिल तक ले जाने में आपकी सहायता करेगा।
पहले जान लेते हैं आर्किटेक्चर या वास्तुकला क्या है?
दोस्तो वास्तुकला ललितकला की ही एक शाखा है, व…

DPC क्या होती है? What is DPC?

दोस्तों नमस्कार
                        आज के इस लेख में हम बात करेंगे की डीपीसी क्या होती है? और इसकी घर बनाते वक्त क्या जरूरत है यानी दीवारों के ऊपर डीपीसी लगाने की हमें क्या जरूरत पड़ती है किस कारण या किस चीज़ की रोकथाम के लिए हम डीपीसी लगाते हैं। साधारण दीवार के ऊपर भी आप इसको लगा सकते हैं।
डीपीसी क्या होती है?
दोस्तों आइए पहले जान लेते हैं कि डीपीसी का मतलब क्या होता है डीपीसी का मतलब होता है "Dump Proofing Course" यानी नीवं ओर ऊपरी दीवार के बीच  का जुड़ाव कहे  या व्यवधान कह सकते हैं जो कि आप के घर की सीलन या नमि को दीवारों में ऊपर चढ़ने से रोकता है और आपकी जो दीवारें हैं सदैव अच्छी बनी रहती है। सीलन नहीं होगी तो आप जो प्लास्टर करते हैं पेंट करते हैं वह कभी नहीं झडेगा या उखड़ेगा,वह बिल्कुल सही रहता है हमेशा हमेशा लंबे समय तक टिकाऊ बना रहता है। 
डीपीसी की जरूरत क्या है हमें!
प्यारे मित्रों जो डीपीसी होती है वह दो प्रकार की आप यूज़ कर सकते हैं दोनों डीपीसी के प्रकार में आपको बताऊंगा कि कौन-कौन से प्रकार होते हैं देखिए सबसे पहले जब भी हम हमारे घर की नींव का निर्माण करते हैं उ…