क्या है आयुष्मान भारत योजना, किसको मिलेगा इसका लाभ। What is Ayushman Bharat Yojana - LS Home Tech

Home Top Ad

Post Top Ad

क्या है आयुष्मान भारत योजना, किसको मिलेगा इसका लाभ। What is Ayushman Bharat Yojana

क्या है आयुष्मान भारत योजना, किसको मिलेगा इसका लाभ। What is Ayushman Bharat Yojana
दोस्तों नमस्कार, हमारे वेब पोर्टल पर आपका स्वागत है, हम अपने इस Portal पर Technology और Education से सम्बंधित आर्टिकल लिखते हैं, जो आपके लिए ज्ञान और जानकारी के प्रयाय होते है, आज की इस पोस्ट में हम आपके लिए आयुष्मान भारत राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा मिशन से सम्बंधित एक बहुत ही महत्वपूर्ण जानकारी लेकर आये हैं, जिसमें हम आपको इस योजना से जुडी सारी जानकारी देंगे। 
क्या है आयुष्मान भारत योजना, What is Ayushman Bharat Yojana

इस योजना की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 14 नवंबर 2018 को डॉ० भीमराव आंबेडकर की जयंती पर छतीसगढ के बीजापुर जिले से की थी, लेकिन इसे/ पूर्ण रूप से "पंडित दीन दयाल उपाध्याय" की जयंती पर 25 सितंबर से देशभर में लागू कर दिया गय है। इस योजना को "प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना या ABYआयुष्मान भारत योजना" के नाम से भी जाना जाता है। सरकार ABY/आयुष्मान भारत योजना के माध्यम से गरीब, उपेक्षित परिवार और शहरी गरीब लोगों के परिवारों को स्वास्थ्य बीमा उपलब्ध कराना चाहती है।

कौन-कौन आएगा इसके दायरे में?  
सामाजिक-आर्थिक जातिगत जनगणना/SECC 2011 के हिसाब से ग्रामीण/Rural इलाके के करीब 8.03 करोड़ परिवार और /शहरी इलाके के करीब 2.33 करोड़ परिवार PM-JAY/ABYआयुष्मान भारत योजना के दायरे में आयेंगे। इस योजना से लगभग 50 करोड़ लोगो को फायदा पहुँचाने की योजना है। 


कैसे होगा लाभार्थियों का चयन?
इस योजना के अंतर्गत 10 करोड़ BPL/Below Poverty  Line परिवारों का चयन साल 2011 की जनगणना के आधार पर किए जाने का अनुमान है। इसके लिए आधार कार्ड नंबर से परिवारों की सूची तैयार की गई है। इस सूचि में जिन लोगो के नाम होंगे उन्ही लोगों को सुविधा का लाभ मिलेगा। आपका इस सूची में नाम होने के बाद इस योजना का लाभ लेने के लिए किसी अतिरिक्त पहचान पत्र की जरूरत नहीं होगी।

आप कौन-कौनसी बीमारी का इलाज करवा सकेंगे इस योजना के अंतर्गत?
ABY/आयुष्मान भारत योजना के तहत मैटरनल हेल्थ/Maternal Health, डिलीवरी/Delivery की सुविधा, नवजात और बच्चों के स्वास्थ्य, किशोर स्वास्थ्य सुविधा, कॉन्ट्रासेप्टिव सुविधा और संक्रामक, गैर संक्रामक रोगों के प्रबंधन की सुविधा, आंख, नाक, कान और गले से संबंधित बीमारी के इलाज के लिए अलग से यूनिट होगी। इसमें बुजुर्गों का इलाज भी करवाया जा सकेगा। स्वास्थ्य मंत्रालय ने आयुष्मान भारत योजना में 1354 पैकेज शामिल किये हैं, इसमें कोरोनरी बायपास, घुटना बदलना और स्टंट डालने जैसे इलाज भी शामिल हैं। 

ABY/आयुष्मान भारत योजना में अस्पताल में भर्ती की प्रक्रिया कैसे होगी?

  • ABY/आयुष्मान भारत योजना का लाभार्थी अस्पताल में एडमिट होने के लिए कोई चार्ज नहीं चुकाएगा। अस्पताल में दाखिल होने से लेकर इलाज तक का सारा खर्च इस योजना में कवर किया जायेगा। 
  • ABY/आयुष्मान भारत योजना के लाभ में अस्पताल में दाखिल होने से पहले और बाद के खर्च भी कवर किये जायेंगे। 
  • इसके लिए पैनल में शामिल हर अस्पताल में एक आयुष्मान मित्र होगा। आयुष्मान मित्र मरीज को अस्पताल की सुविधाएं दिलाने में मदद करेगा। 
  • इस से जुड़े हर अस्पताल में एक हेल्प डेस्क भी होगा जो दस्तावेज चेक करने, स्कीम में नामांकन के लिए वेरिफिकेशन में मदद करेगा। 
  • ABY/आयुष्मान भारत योजना में शामिल व्यक्ति देश के किसी भी सरकारी/पैनल में शामिल निजी अस्पताल में इलाज करा सकेगा। 

कैसे पता करें आपका नाम सूचि में है या नहीं?
जैसा की हम पहले बता चुके हैं की साल 2011 की जनगणना में गरीबी रेखा से नीचे के लोगों को इसमें जगह मिलेगी। इस योजना में आपका नाम शामिल है या नहीं ये आप इनकी वेबसाइट WWW.PMJAY.GOV.IN  पर चेक कर सकते हैं। इसके लिए सबसे पहले आप इस Website पर जाएँ। इस वेबसाइट के होम पेज/Home Page पर एक बॉक्स मिलेगा, जिसमें आपको अपना मोबाइल नंबर डालना होगा। इसके बाद आपके उस मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी/OTP/One Time Password आएगा। उस ओटीपी को वेबसाइट के ऊपर डालते ही आपको पता चल जाएगा कि आपका नाम इस सूचि में जुड़ा है या नहीं। यहाँ एक बात का ध्यान रखें की आपका वो मोबाइल नंबर एक्टिव होने चाहिए जिस पर ओटीपी आएगा। 

इसके अतिरिक्त भी आप लोग 14555 पर कॉल करके यह पता कर सकते हैं, कि आपका नाम इस योजना में शामिल है या नहीं। लोग अपने अनजदीकी सरकारी अस्पतालों में जाकर भी यह पता कर सकते हैं, कि उनको इस योजना का लाभ मिलेगा या नहीं।

इसके योजना दो कंपोनेंट हैं - पहला 10.74 लाख परिवारों को मुफ्त 5 लाख रुपए का स्वास्थ्य बीमा मिलेगा। दूसरा हेल्थ वेलनेस सेंटर जिसमें देशभर के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र अपडेट होंगे। इन सेंटर्स पर इलाज के साथ मुफ्त दवाइयां भी मिलेंगी।

आपको इस योजना का लाभ अस्पताल में कैसे मिलेगा?
कोई भी मरीज जो इस योजना में शामिल है उसको अस्पताल में भर्ती होने के बाद अपने बीमा दस्तावेज/Documents अस्प्ताल स्टाफ को देने होंगे। इसके आधार पर ही वो अस्पताल इलाज के खर्च के बारे में बीमा कंपनी को सूचित करेगा और बीमाधारी व्यक्ति के दस्तावेजों की पुष्टि होते ही इलाज बिना पैसे दिए हो सकेगा। इस योजना के तहत बीमाधारी व्यक्ति सिर्फ सरकारी ही नहीं बल्कि निजी/Private अस्पतालों में भी अपना इलाज करवा सकेगा। अभी निजी अस्पतालों को जोड़ने का काम भी शुरू हो चुका है। साथ ही इससे ये फायदा भी होगा की अब सरकारी अस्पतालों में अब भीड़ कम हो जाएगी। फ़िलहाल सरकार इस योजना के तहत देशभर में डेढ़ लाख से ज्यादा हेल्थ/Health और वेलनेस सेंटर खोलेगी जो कि मरीज को आवश्यक दवाएं और जांच सेवाएं निःशुल्क मुहैया करवाएंगे। 
जिन लोगों के पास 28 फरवरी 2018 तक राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना का कार्ड होगा, वे भी आयुष्मान भारत योजना का लाभ उठा सकते हैं। 

क्या बिना आधार के भी  मिल पाएगा लाभ!!
ABY/आयुष्मान भारत योजना के लिए आपको आधार कार्ड की आवश्यकता नहीं होगी। सुप्रीम कोर्ट के अनुसार किसी भी सरकारी स्कीम का लाभ उठाने के लिए आपको आधार कार्ड की जरूरत नहीं है। इसके लिए केवल आपका नाम उस सूचि में होना चाहिए। 

भारत के किन राज्यों में कितने सेंटर होंगे?
छत्तीसगढ़ में 1000, गुजरात में 1185, राजस्थान में 505, झारखंड में 646, मध्यप्रदेश में 700, महाराष्ट्र में 1450, पंजाब में 800, बिहार में 643, हरियाणा में 255 होंगे। 

तो दोस्तो आपको हमारी ये पोस्ट कैसी लगी हमें जरूर लिखे, आप पोस्ट के नीचे Comment Box  में अपनी प्रतिक्रियाएं ओर अगर कोई सुझाव है तो वो भी लिख कर भेज सकते हैं। साथ ही आप हमें हमारे द्वारा प्रकाशित नए लेख पढ़ने के लिए Subscribe भी कर सकते हैं।

Join us :
My Facebook :  Lee.Sharma
My YouTube : Home Design !deas

हमारे द्वारा लिखित और आर्टिकल यहाँ पढ़ें :

No comments:

Post a Comment

Featured Post

5G टेक्नोलॉजी के फायदे और नुकसान। Advantages and Disadvantages of 5G Technology.

जैसे-जैसे टेक्नोलॉजी का विकास होता जा रहा है, टेक्नोलॉजी हमारे जीवन को समृद्ध बना रही है, इसके बहुत से फायदे होने के साथ ही कुछ नुकसान भी ...

Contact Form

Name

Email *

Message *

Newsletter

Advertisement

Post Top Ad

Your Ad Spot