LS Home Tech: एयरफोर्स पायलट कैसे बने सम्पूर्ण जानकारी। How to become Air-Force pilot?

Thursday, February 14, 2019

एयरफोर्स पायलट कैसे बने सम्पूर्ण जानकारी। How to become Air-Force pilot?

दोस्तों जैसा की अगर आपने हमारे पिछले लेख को पढ़ा हो जिसमे हमने जिक्र किया था की आप एक कमर्शियल पायलट कैसे बन सकते हैं। अगर आपने नहीं पढ़ा हो तो आप उसको यहाँ क्लीक करके भी पढ़ सकते हैं (कमर्शियल पायलट कैसे बने)। आज। इस लेख में हम आपको बताएंगे की आप एयरफोर्स पायलट/Airforce Pilot कैसे बन सकते हैं। कृपया इस लेख को पूरा पढ़ें। हमारा ये आर्टिकल आपके या आपके छोटे भाई-बहन के बहुत काम आ सकता है।


How to become Air-Force pilot?


MBBS डॉक्टर कैसे बने।


Indian Air Force/भारतीय वायु सेना भारतीय सशस्त्र सेनाओ के तीन प्रमुख अंगों में से एक है, हमारे देश के ज्यादातर युवा एयर फोर्स अर्थात भारतीय वायु सेना में सम्मलित होकर देश की सेवा करना चाहते ह। भारतीय वायु सेना में पायलट पद के लिए छात्रों में अत्यधिक रूचि देखनें को मिलती है। पायलट का यह एक ऐसा करियर है, जो हर तरह की सुविधाओं व शानदार जीवन शैली और देश के लिए कुछ करनें के लिए सम्मान से परिपूर्ण होता है। अगर आप भी इस जॉब में जाना चाहते हैं तो पहले आपको इसके बारे में सम्पूर्ण जानकारी होनी चाहिए। क्योंकि सही मार्गदर्शन आपको सही रस्ते तक लेकर जा सकता है। हमारी इस जानकारी के माध्यम से आप आसानी से सफलता प्राप्त कर सकते हैं।

How to become Air-Force pilot?
ये भी पढ़ें :
अगर आप एयर फोर्स में पायलट बनना चाहते हैं तो इसके बारें में विस्तृत जानकारी हम यहाँ पर दे रहें है। एयर फ़ोर्स में पायलट बननें हेतु कुछ जरूरी योग्यता इस प्रकार से होनी चाहिए।

  • एयर फोर्स में भर्ती होने के लिए अभ्यर्थी का बारहवीं कक्षा साइंस संकाय(Science Stream) में 50 प्रतिशत अंको के साथ PCM यानि फिजिक्स, कमेस्ट्री और मैथ सब्जेक्ट से उत्तीर्ण होना अनिवार्य होता। 
  • आवेदक की आयु 16 वर्ष  से 23 वर्ष के बिच होनी चाहिए, तथा आवेदनकर्ता शारीरिक रूप से फिट होना चाहिये। 
  • भारतीय वायु सेना में पायलट के रूप में सम्मिलित होनें के लिए आपकी ऊंचाई 162.5 सेमी यानि 5 फुट 3 इंच से कम नहीं होनी चाहिए, आवेदको के बैठनें पर ऊंचाई,  81 सेंटीमीटर और 96 सेंटीमीटर के मध्य होनी चाहिए ।
एयर फ़ोर्स में पायलट बननें हेतु कोनसी परीक्षा देनी होती है?
भारतीय वायु सेना में पायलट बननें के लिए आवेदनकर्ता को मानसिक और शारीरिक रूप दोनों तरह से स्वस्थ होना आवश्यक है। पायलट बननें के लिए योग्यता के आधार पर दो तरह की परीक्षाए आयोजित की जाती है।  पहली होती है ग्रेजुएट यानि स्नातक स्तर की और दूसरी अंडर ग्रेजुएट स्तर की होती है। ग्रेजुएट स्तर की परीक्षा में छात्रों को ग्रेजुएशन या इंजीनियरिंग स्तर पर पढ़ाए जानें वाले विषयों का गंभीरता से अध्ययन करना चाहियें और अंडर ग्रेजुएट छात्रों को दसवीं और बारहवीं के गणित और विज्ञान विषयों पर विशेष ध्यान देना चाहिए। साथ ही आपको इंग्लिश, राजनितिक, भूगोल और  सामान्य ज्ञान के विषयों का भी अध्यन करना चाहिए। हाँ आपको इंग्लिश भी अच्छी तरह से आनी चाहिए। 


भारतीय वायुसेना में पायलट बननें के कई विकल्प है, जिनमें पहला है NDA नेशनल डिफेन्स एकेडमी(NDA की पूरी जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करें।), दूसरा है CDSE कंबाइंड डिफेंस सर्विस एग्जामिनेशन, तीसरा है NCC एनसीसी स्पेशल एंट्री और चौथा होता है SSC एसएससी/ शार्ट सर्विस कमिशन परीक्षा के माध्यम से पायलट बन सकते है। आइये इनके बारे में विस्तार से जानते हैं। 

एयरफोर्स पायलट का वेतनमान और अन्य सुविधाएं।
एक महिर एयरफोर्स पायलट को शुरुआती वेतनमान के रूप में लगभग 50 हजार रुपए प्राप्त होते है। प्रशिक्षण अवधि के दौरान ट्रेनर पायलटों को 21 हजार रुपए प्रति माह दिया जाता हैं, समय के साथ इसमें वृद्धि भी की जा सकती है। इसके साथ ही सरकार द्वारा पायलटों को रहनें के लिए सरकारी सुविधा, स्वास्थ्य सुविधा जिसमे उनके बच्चे और माता-पिता की स्वास्थ्य सुविधाएँ भी शामिल होती हैं। साथ ही बच्चों के लिए मुफ्त शिक्षा जैसी सुविधाए प्राप्त होती हैं।

आवेदन से सम्बंधित जानकारी विस्तार से -
एनडीए की परीक्षाओं का आयोजन यूपीएससी UPSC/ Union Public Service Commission द्वारा वर्ष में दो बार मई और दिसंबर महीने में आयोजित कि जाती है, आवेदन से सम्बंधित हर प्रकार की जानकारी  आप UPSC की वेबसाइट से प्राप्त कर सकते हैं। इसके लिए यहाँ क्लीक करें -  (UPSC) 

  • नेशनल डिफेन्स एकेडमी(NDA) के लिए योग्यता। 

इसके अंतर्गत पायलट बननें वाले अभ्यर्थियों की आयु 16 से 19 वर्ष के बिच होनी चाहियें। अभ्यर्थी को भौतिक विज्ञान, गणित और अंग्रेजी विषयों से बारहवीं कक्षा न्यूनतम 50% अंकों के साथ  उत्तीर्ण किया होना चाहिए। वही छात्र एनडीए की परीक्षा में सम्मिलित हो सकते हैं। NDA एंट्रेंस एग्जाम पास करने के बाद आप इस फील्ड में जा पाएंगे। 

एनडीए की ट्रेनिंग/ NDA Training 
एनडीए की परीक्षा में सफलता प्राप्त करनें के पश्चात, अभ्यर्थी को भारतीय वायुसेना के लिए चयनित किया जाता है। उसके बाद पास अभ्यर्थियों को तीन वर्ष की ट्रेनिंग के लिए राष्ट्रीय रक्षा अकादमी के खडकवासला स्थित पायलट प्रशिक्षण केंद्र में भेजा जाता है। प्रशिक्षण अवधि के दौरान प्रशिक्षु पायलटों को हर तरह के हथियार और विमान चलानें का प्रशिक्षण दिया जाता है। इस प्रशिक्षण को पूरा करनें के पश्चात नए पायलटों को वायुसेना में परमानेंट कमीशंड अधिकारी का पद प्राप्त हो जाता है। और उसके बाद पायलट को देश में स्थित किसी भी एयरफोर्स बेस स्टेशन में नियुक्त कर दिया जाता है।




  • कंबाइंड डिफेंस सर्विस एग्जामिनेशन (CDSE) द्वारा। 

इस परीक्षा का आयोजन भी UPSC/ Union Public Service Commission/यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन द्वारा किया जाता है। इसमें चयनित पुरुष अभ्यर्थी वायुसेना में परमानेंट कमीशन अधिकारी का पद प्राप्त करते हैं। खास बात ये है की इस परीक्षा में सिर्फ पुरुष आवेदक ही आवेदन कर सकते हैं ।

योग्यता क्या होनी चाहिए इसके लिए ?
इसमें सम्मिलित होनें वाले अभ्यर्थियों की आयु 19 से 23 वर्ष के मध्य होनी चाहियें, तथा भौतिक विज्ञान, गणित और अंग्रेजी विषयों से ग्रेजुएट, बीटेक, बीई या उसके समकक्ष होना चाहियें है, जो छात्र ग्रेजुएशन के फाइनल सेमेस्टर की परीक्षा दे रहे हैं, वो भी इस परीक्षा में सम्मिलित हो सकते है। 

आवेदन से सम्बंधित जानकारी
इस परीक्षा का आयोजन UPSC/यूपीएससी द्वारा वर्ष में दो बार जून और अक्तूबर महीने में विज्ञापन द्वारा जारी किया जाता है। इसे आप UPSC की (वेबसाइट UPSC) पर देख सकते हैं।

  • एनसीसी स्पेशल एंट्री NCC Special Entry 

NCC/नेशनल कैडेट कोर (एनसीसी) के एयर विंग सीनियर डिविजन से सी-सर्टिफिकेट धारक एनसीसी कैडेट के अभ्यर्थी भारतीय सेना की फ्लाइंग शाखा के लिए आवेदन कर सकते हैं। उन्हें भी भारतीय वायुसेना में परमानेंट कमीशन का पद दिया जाता है। यहाँ से भी आप पायलट कोर्स कर सकते हैं। 

इसके लिए आपकी योग्यता क्या होनी चाहिए? 
इसके अंतर्गत ऐसे अभ्यर्थी जिनकी आयु  19 से 23 वर्ष के बिच है वो आवेदन कर सकते हैं। वो अभ्यर्थी किसी मान्यताप्राप्त विश्वविद्यालय से 60 प्रतिशत अंकों के साथ भौतिक विज्ञान, गणित और अंग्रेजी विषयों से ग्रेजुएट, बीटेक, बीई या उसके समकक्ष योग्यता के साथ उत्तीर्ण होना चाहिए, और साथ में उनके पास एनसीसी के एयर विंग सीनियर डिविजन से सी-सर्टिफिकेट होना चाहिए। इस प्रकार आप इस परीक्षा में सम्मिलित हो सकते है, ग्रेजुएशन के अंतिम सेमेस्टर की परीक्षा देनें वाले छात्र भी इस परीक्षा में बैठ सकते हैं। इसके लिए बारहवीं और ग्रेजुएशन, दोनों स्तरों पर आपके पास विज्ञान विषय होना अनिवार्य है।

आवेदन से सम्बंधित जानकारी कहाँ से प्राप्त करें?
एनसीसी कैडेट्स इसके लिए NCC/एनसीसी के डीजी या एयर स्क्वाड्रन से संपर्क कर जानकारी प्राप्त कर सकते है। या फिर आप ऑनलाइन भी इस बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

  • एसएससी परीक्षा/SSC एग्जामिनेशन 

ये पायलट बनने की चौथी कड़ी होता है जिसके माध्यम से आप पायलट बनने हेतु इस परीक्षा में बेठ सकते हैं। भारतीय वायुसेना सेना की फ्लाइंग ब्रांच के लिए SSC/एसएससी परीक्षा द्वारा आवेदन कर सकते है। इसमें पुरुष और महिला दोनों सम्मिलित हो सकते है, इन्हें भी इंडियन एयरफोर्स में 14 वर्षो  के लिए शॉर्ट सर्विस कमीशन दिया जाता है।  
इसके लिए आपकी क्या योग्यता होनी चाहिए? 
SSC/एसएससी परीक्षा के माध्यम से पायलट बननें वाले अभ्यर्थियों की आयु 19 से 23 वर्ष के बिच होनी चाहिए।  शैक्षिक योग्यता के अंतर्गत, आवेदक किसी भी मान्यताप्राप्त विश्वविद्यालय से 60 प्रतिशत अंकों के साथ भौतिक विज्ञान, गणित और अंग्रेजी विषयों से ग्रेजुएट, बीटेक, बीई या उसके समकक्ष होना चाहियें। साथ ही जिसके पास NCC/एनसीसी के एयर विंग सीनियर डिविजन से सी-सर्टिफिकेट हो वो भी इसके लिए मान्य होते हैं, इसके लिए बारहवीं और स्नातक, दोनों स्तरों पर आपके पास विज्ञान विषय होना अनिवार्य हैं।



आवेदन से सम्बंधित जानकारी कहाँ से लें। 
भारतीय वायुसेना द्वारा एसएससी के माध्यम से AFCAT एयर फोर्स कॉमन एड्मिशन टैस्ट (एएफसीएटी) के लिए साल में दो बार जून और दिसंबर महीने में आवेदन मांगे जाते हैं। इससे सम्बंधित सम्पूर्ण जानकारी इनकी अधिकारिक वेबसाइट  Indian Airforce और www.careerairforce.nic.in से आप प्राप्त कर सकते हैं।

दोस्तों आशा करता हूँ आपको ये आर्टिकल पसंद आया होगा। अगर हमारे द्वारा दी गई जानकरी अच्छी लगी तो इस आर्टिकल को ज्यादा से ज्यादा लोगो तक Share करे तथा इस आर्टिकल संबंधी अगर किसी का कोई भी सुझाव या सवाल है तो वो हमें कमेंट सकते है।
Join us :
My Facebook :  Lee.Sharma
हमारे और आर्टिकल यहाँ पढ़ें :



No comments:

Post a Comment

Popular Posts