5G टेक्नोलॉजी के फायदे और नुकसान। Advantages and Disadvantages of 5G Technology. - LS Home Tech

Home Top Ad

Post Top Ad

Monday, March 2, 2020

5G टेक्नोलॉजी के फायदे और नुकसान। Advantages and Disadvantages of 5G Technology.

जैसे-जैसे टेक्नोलॉजी का विकास होता जा रहा है, टेक्नोलॉजी हमारे जीवन को समृद्ध बना रही है, इसके बहुत से फायदे होने के साथ ही कुछ नुकसान भी होते हैं। आइये इस टेक्नोलॉजी से होने वाले फायदे और नुकसानों के बारे में जान लेते हैं। 
5G ke fayde or Nuksan kya-kya hain?

5G टेक्नोलॉजी के फायदे/Advantages of 5G Technology
  • इस टेक्नोलॉजी के माध्यम से हम किसी भी बड़े साइज के Data को तुरंत कुछ ही Second में Upload या Download कर पाएंगे। 
  • 5G टेक्नोलॉजी Traffic Capacity और Network Afficiancy में 20 GB प्रति सेकंड की स्पीड देने में सक्षम है। 
  • 5G तकनीक में MM वेव के साथ, आप 1MS की लेटेंसी पा सकते हैं, जो तुरंत कनेक्शन Establish करने और नेटवर्क ट्रैफिक को कम करने में मदद करता है।
  • 5G रियल टाइम में ऑग्मेंटेड रियलटी/Augmented Reality का अनुभव करा सकता है। इससे ऑग्मेंटेड रियलिटी पर काम करने वाले हार्डवेयर के विकास में भी मदद मिलेगी।
  • आने वाले समय में ये तकनीक VR/वर्चुअल रियलिटी, ऑटोमैटिक ड्राइविंग और इंटरनेट ऑफ थिंग्स के लिए आधार बनने जा रहा है। 
  • 5G सिर्फ आपके स्मार्टफोन इस्तेमाल ओर अनुभव को बेहतर बनाने के साथ-साथ मेडिकल, इंफ्रास्ट्रक्चर और यहां तक कि मैन्युफैक्चरिंग के विकास में भी मदद करने वाला है।
5G टेक्नोलॉजी के नुकसान/Disadvantages of 5G Technology

  • ये टेक्नोलॉजी काफी महंगी होने वाली है। इसके लिए नेटवर्क ऑपरेटर्स को मौजूदा सिस्टम हटाना पड़ेगा, क्योंकि इसके लिए 3.5Ghz से अधिक फ्रीक्वेंसी की जरूरत होती है।
  • 5G टेक्नोलॉजी के महंगा होने के कारण आम इंसान इसे नही प्रयोग कर पायेगा, एक तो इसके प्रयोग के लिए आपके पास 5G युक्त मोबाइल होना चाहिए, जो कि फिलहाल काफी महंगे हैं।
  • Sub-6 Ghz स्पेक्ट्रम की बैंडविड्थ भी लिमिटेड है, इसलिए इसकी स्पीड mm-wave की तुलना में कम हो सकती है।
  • 5G टेक्नोलॉजी में प्रयुक्त मिलीमीटर-वेव कम दूरियों में ज्यादा प्रभावी होता है, और यह बाधाओं में काम नहीं कर सकता है। इसकी Frequency पेड़ों के द्वारा और बारिश के दौरान Absorb भी हो सकती है, इसका मतलब है, कि 5G को ठोस तरीके से लागू करने के लिए नेटवर्क ऑपरेटर को काफी ज्यादा हार्डवेयर लगाने की जरूरत होगी।
  • 5G नेटवर्क के बारे में प्रकृति के खिलाफ काफी चिंताजनक बात बताई है। 5G नेटवर्क से कई किलोमीटर के दायरे तक वेब का जाल बनता है, जिससे पक्षियों और दूसरे जीवों पर बहुत बुरे प्रभाव पड़ते हैं। 

तो दोस्तों आशा करता हूँ की आपको हमारे द्वारा दी गई ये जानकारी पसंद आयी होगी। अगर इससे सम्बंधित आप कोई सलाह या सुझाव हमें देना चाहते हैं तो आपका स्वागत है। आप हमारे दूसरे आर्टिकल के लिए हमें सब्सक्राइब भी कर सकते हैं। आप हमें कमेंट करके बता भी सकते हैं कि आपको किसी विषय पर हमारी वेबसाइट पर जानकरी चाहिए, हम जल्द से जल्द वो जानकारी हमारी वेबसाइट पर आपके लिए उपलब्ध करने की कोशिश। हमारी इस जानकारी को दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें। धन्यवाद 
Join us :
My Facebook:  Lee.Sharma

No comments:

Post a Comment

Featured Post

5G टेक्नोलॉजी के फायदे और नुकसान। Advantages and Disadvantages of 5G Technology.

जैसे-जैसे टेक्नोलॉजी का विकास होता जा रहा है, टेक्नोलॉजी हमारे जीवन को समृद्ध बना रही है, इसके बहुत से फायदे होने के साथ ही कुछ नुकसान भी ...

Contact Form

Name

Email *

Message *

Newsletter

Advertisement

Post Top Ad

Your Ad Spot