What is Digital India Program? What is Digital India Program? - LS Home Tech

Home Top Ad

Post Top Ad

What is Digital India Program? What is Digital India Program?

डिजिटल इंडिया प्रोग्राम क्या है? What is Digital India Program? 
LSHOMETECH के सभी पाठकों को हमारी और से स्प्रेम नमस्कार, हम अपने इस वेब पोर्टल पर Technology और Education से सम्बंधित हर प्रकार के पोस्ट लिखते हैं, जो आप सभी के लिए बहुत ही ज्ञानवर्धक होते हैं। हमारा ब्लॉग लिखने का मुख्य उद्देश्य Computer Technology और Education को जन-जन तक पहुँचाना है। मैं चाहता हूँ की हर भारतवासी को टेक्नोलॉजी की जानकारी हिंदी भाषा में मिले ताकि वो इसे आसानी से पढ़ सके और समझ सके। मैं आप सभी पाठकों से भी आशा करूंगा की आप भी हमारी इस मुहीम में शामिल हों और इसे लोगों के साथ शेयर करें, ताकी ज्यादा से ज्यादा लोग इस जानकारी का फायदा उठा सकें। आज की हमारी इसी ब्लॉग पोस्ट में मैं उन सभी लोगों के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण जानकारी लाया हूँ, जो डिजिटल इंडिया मिशन/Digital India Mission के बारे में जानना चाहते हैं, इसमें मैं आपको Digital India के बारे में पूरी जानकारी विस्तार से बताऊंगा। तो आइये जान लेते हैं है की डिजिटल इंडिया क्या है?  
What is Digital India in Hindi


डिजिटल इंडिया क्या है? What is Digital India? in Hindi 
Digital India एक ऐसी मुहीम है जो भारत सरकार द्वारा चलाई गई है, जिसके माध्यम से पुरे भारत को आने वाले कुछ सालों में पूर्णतय: डिजिटल बनाया जाना है। डिजिटल इंडिया भारत सरकार का एक Flagship Program है जिसका Vision है सम्पूर्ण राष्ट्र को Computer और Internet पर आधारित Digitally Empowered बनाना। इस प्रोग्राम ने देश की अर्थवव्यथा को एक डिजिटल रूप दे दिया है। इससे पहले भी भारत सरकार ने इस तरह के बहुत से काम किये लेकिन उनको किसी परियोजना का नाम नहीं दिया गया। भारत में 1990 के दशक के बाद से ही डिजिटल युग की शुरुआत हो गई थी, लेकिन 2000 के बाद तो इस क्षेत्र में बहुत ही तरक्की हुई। 2000 के बाद भारत सरकार द्वारा बहुत सी चीजों का Digitization किया गया जिनमें Railway Computerization, Land Record Computerization, Bank Computerization इत्यादि प्रमुख काम शामिल थे। इसके साथ ही विभिन्न राज्यों ने भी Individual E-Governance प्रोजेक्ट शुरू किये ताकि Electronic सर्विस दी जा सके। 

डिजिटल इंडिया की शुरुआत कब और किसने की? When and who started Digital India?
Digital India की शुरुआत 1 जुलाई 2015 को भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा दिल्ली के Indira Gandhi Indoor Stadium से की गई थी। इस मोके पर प्रधानमंत्री के साथ देश की कई बड़ी इंडस्ट्रियल और डिजिटल क्षेत्र से जुडी हस्तियां भी शामिल थी, जिनमें रिलायंस के अध्यक्ष मुकेश अम्बानी/Mukesh Ambani, विप्रो के अध्यक्ष अजीम प्रेमजी/Ajim Premji और टाटा ग्रुप के उस वक़्त के अध्यक्ष साइरस मिस्त्री/Sirus Mistry शामिल थे। उस वक़्त सभी ने मिलकर संकल्प लिया की सभी मिलकर Digital Power से भारत को आगे बढ़ाएंगे। 

इससे पहले देश में डिजिटल क्रांति तो थी, लेकिन तब उसमें वो गति नहीं थी जो डिजिटल इंडिया की शुरुआत के बाद आई है। निश्चित रूप से समय के साथ हुए इस बदलाव को आप देख ही रहे होंगे। Internet, Mobile और Computer की वजह से आज पूरी दुनिया Digital होती जा रही है, यहाँ तक की अब पढ़ाई भी डिजिटल/Digital हो गई है। डिजिटल होती इस दुनिया ने आपसी दूरियां इतनी कम कर दी हैं कि हमें कभी इसका अंदाज़ा भी नहीं था। Digital India आज एक बड़ी क्रांति के रूप में हमारे सामने है। इसकी की वजह से आज हमारे ज्यादातर काम Electronically संभव हो रहे हैं। हम अपने किसी भी प्रकार के Record को Electronically सुरक्षित रख सकते है। भारत सरकार के अनुसार डिजिटल इंडिया प्रोग्राम 18 लाख से ज्यादा नयी नौकरियां प्रदान करेगा, जिससे देश में बेरोजगारी की दर में बहुत कमी आएगी। इस प्रोग्राम की शुरुआत के बाद हर किसी Government Department को Digitally रूप से सशक्त बनाया गया है, और इससे नयी तकनीक का विकास भी हो रहा है। डिजिटल इंडिया प्रोग्राम देश की अर्थवव्यस्था के सुधार में बहुत योगदान दे रहा है। 

डिजिटल इंडिया प्रोग्राम के उद्देश्य/Objectives of Digital India Program.
भारत सरकार द्वारा डिजिटल इंडिया प्रोग्राम शुरू करने के बहुत से उद्देश्य है, जिससे भारत की अर्थव्यस्था और जनता को तरक्की करने के मौके मिलेगें, जिसके कारण देश का विकास भी होगा। तो आइये जान लेते हैं इसके उद्देश्यों के बारे में। डिजिटल इंडिया प्रोग्राम के उद्देश्य की जानकारी क्रमवार नीचे दे रहे हैं। 

इ-गवर्नेंस/E-Governance
Digital India Program के अंतर्गत हर तरह के सरकारी आवेदन की सुविधा को Online किया गया है,  जिसमें सभी तरह की Database जानकारी को Electronic रूप प्रदान किया गया है जैसे- आधार सुविधा, PAN Card, Payment Gateway, Voter Id Card और भी बहुत सारी Online सर्विस हैं जिनका फायदा आप उठा सकते हैं। 

आईटी को बढ़ावा/Promote IT
Digital India Program  पूर्णतः IT पर ही आधारित है, और इसके माध्यम से Skill और Tarining को बढ़ावा देना है, ताकि आज की जनरेशन IT Sector में Employment Opportunities हासिल कर सकें। इसके अंतर्गत आठ कंपनियां शामिल है, जिनकी कुछ गतिविधियों का विशिष्ट दायरा हैं, जैसे कि भारत का ग्रामीण एरिया और पूर्वोत्तर भारत पर ध्यान केंद्रित करना। इसमें 1 करोड़ Students को IT Sector में Training प्रदान करना, इसके अतिरिक्त तीन लाख Service Delivery Agents को Training प्रदान करना भी शामिल हैं। 

सार्वजनिक इंटरनेट एक्सेस कार्यक्रम/Public Internet Access Program
Digital India Program के अंतर्गत सभी Government Department को Internet से जोड़ा गया है, ताकि सभी लोगों तक इसकी पहुँच को बढ़ाया जा सके। इसमें Common Services Centers/CSC को Strengthened किया गया है और उनकी संख्या को भी बढाया गया है, जिससे प्रत्येक Panchayat को एक CSC मिल सके। अब आपको किसी भी काम के लिए बार-बार Government Office के चक्कर नहीं काटने पड़ेंगे। आप Internet के माध्यम से घर बैठे ही किसी भी सरकारी जानकारी को प्राप्त कर सकते है। इस कड़ी में सबसे पहले Post Office को Multi Service Center के रूप बनाया गया था, यहाँ से आप हर प्रकार की सरकारी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। 

ब्रॉडबैंड हाईवे/Broadband Highway
Digital India Program की Broadband Highway के अंतर्गत भारत के सभी गाँवों को Internet से जोड़ा जाना है, जिस पर अभी काम चालू है। Broadband का मतलब दूरसंचार से होता है, जिसके लिए Fiber Optics Cable को बिछाया गया है, इसमें देश की सभी ग्राम पंचायतों को 100 Mbps की Speed से Broadband Connectivity प्रदान की जाएगी। फ़िलहाल देश के 2.5 लाख गावों को इसके तहत जोड़ा जाना है। 

मोबाइल कनेक्टिविटी/Mobile Connectivity
आजकल हर गांव या शहर में लगभग हर नागरिक के पास Mobile की सुविधा उपलब्ध है, लेकिन गांव या शहर में जिन लोगों के पास Mobile की सुविधा उपलब्ध नहीं है, सरकार की तरफ से Digital India के माध्यम से हर नागरिक को Mobile की सुविधा उपलब्ध करना है जिससे वो Internet की सुविधा और Mobile Banking का उपयोग कर सके।

इ-क्रांति/E-Kranti या  
Digital India Program के सभी उद्देश्य में से इ-क्रांति भी एक है, जिसके तहत बहुत सारी सुविधाओं को जोड़ा गया है। इसमें करीब 44 Mission Projects शामिल हैं। यह Program Integrate करती है पिछले राष्ट्रीय E-Governance Plan को।  इसमें Public services से सम्बंधित प्रोजेक्ट शामिल होते हैं जैसे- Health, Education, Farmers, Justice, Security और Financial Inclusion इत्यादि। इन सभी को E-Kranti के तहत ही Electronically ही Administered किया जाता है। 

इ-शिक्षा/E-Education
साथ ही सभी प्रकार के पाठ्यक्रम को Online किया जाएगा। इन सभी सुविधाओं को E-Education का नाम दिया गया है। जिसमे स्कूलों को Broadband से जोड़कर Free Wi-Fi की सुविधा दी जाएगी, जिसमें सरकार Wi-Fi Facilities set up करेंगी सभी Universities और Public Spaces में पुरे देशभर में। सभी स्कूलों में eBooks की सुविधा प्रदान की जाएगी। E-mail को Primary Mode of Communication बनाया जायेगा। Adhara Enabled Biometric Attendance System को प्रत्येक Central Government Offices में लागु किया जायेगा। 

डिजिटल इलेक्ट्रॉनिक विनिर्माण/Digital Electronics, Manufacturing
Digital Electronics, Manufacturing जिसमें target Net Zero Imports हो : Digital India प्रोग्राम के तहत Digital Electronics, Manufacturing भी इसका एक बड़ा उद्देश्य है। इसके माध्यम से सरकार Digital Technology Devices के ज्यादा निर्माण को बढ़ावा देना चाहती है, जो की ख़ास तोर से Electronics होता है।   National Electronic Policy के तहत इसमें कई कदम उठाये जा रहे हैं जिसमें Promoting Incubators, Taxation Incentives, Eliminating Cost Disadvantages, Clusters, Skill Development आदि शामिल हैं। 

उपरोक्त सभी उद्देश्यों के साथ ही स्वास्थ्य के क्षेत्र में भी इन सुविधा के द्वारा Online Medicine Supply, Online Medical आदि की सुविधा भी मरीज़ो को दी जाएगी। साथ ही लोगों को नक़दी, कर्ज, Mobile Banking आदि की Online सेवा भी प्रदान की जाएगी।

डिजिटल इंडिया के लाभ/Benefits of Digital India
डिजिटल इंडिया कार्यक्रम/Digital India Program के जनता को बहुत से लाभ मिलने वाले हैं। जिसमें हर किसी को अपने स्तर के अनुसार लाभ होने वाला है, तो आइये जान लेते हैं इस लाभ के बारे में। 

समय की बचत/Time Saving
किसी भी प्रकार के Cashless ट्रांजेक्शन को करने के लिए हमें, न तो बैंक में जाने की जरुरत होती है और न ही लाइन में लगकर Bill इत्यादि भरने के लिए अपनी बारी का इंतज़ार करना होता है, जिसके कारण आपका काफी समय बच जाता है। 

भ्रष्टाचार में कमी/Reduction of Corruption
Cashless Economy से भ्रष्टाचार में भी बहुत कमी आयी है। इसके बाद रिश्वत लेने की आदत में भी कमी देखि गयी है। हमारे देश में ज्यादातर भ्रष्टाचार नगद लेन-देन के जरिये ही होता है। किसी काम को करवाने के लिए सरकारी अधिकारी को घुस देनी हो ऐसे काम नगद पैसे के द्वारा ही किये जाते हैं।

अर्थव्यवस्था में सुधार/Improvement in Economy
Digital India प्रोग्राम का सबसे बड़ा योगदान है Cashless Economy में, क्यूंकि ये प्रक्रिया पूरी तरह से Internet पर ही निर्भर है। इसी कारण Cashless प्रक्रिया ने Economy में बहुत ही महत्वपूर्ण योगदान दिया है।

डिजिटल इंडिया प्रोग्राम के और भी बहुत से लाभ हैं, जिनके बारे में हम एक अलग से पोस्ट लिखेंगे। ाशक करता हूँ की आपको हमारी ये पोस्ट पसंद आयी होगी। कृपया इसे दोस्तों-रिश्तेदारों के साथ जरूर शेयर करें ताकि वो भी इस जानकारी का लाभ उठा सकें। 

Join us :
My Facebook:  Lee.Sharma

हमारे और आर्टिकल यहाँ पढ़ें :

No comments:

Post a Comment

Featured Post

5G टेक्नोलॉजी के फायदे और नुकसान। Advantages and Disadvantages of 5G Technology.

जैसे-जैसे टेक्नोलॉजी का विकास होता जा रहा है, टेक्नोलॉजी हमारे जीवन को समृद्ध बना रही है, इसके बहुत से फायदे होने के साथ ही कुछ नुकसान भी ...

Contact Form

Name

Email *

Message *

Newsletter

Advertisement

Post Top Ad

Your Ad Spot