LS Home Tech: एनीमेशन कितने प्रकार के होते हैं? What types of Animation are? एनीमेशन के प्रकार
You can search your text here....

Thursday, November 7, 2019

एनीमेशन कितने प्रकार के होते हैं? What types of Animation are? एनीमेशन के प्रकार

दोस्तो नमस्कार, हमारे पिछले आर्टिकल/लेख में हमने आपको एनीमेशन क्या होता है इसके बारे में विस्तार से आपको बताया था, अगर आपने हमारे उस आर्टिकल को नही पढ़ा तो आप इस लिंक What is animation पर क्लिक करके पढ़ सकते हैं। पिछले लेख में हमने एनीमेशन से संबंधित आपको पूरी जानकारी दी थी साथ ही हमने उसमे आपको बताया भी था कि हम अपने अगले आर्टिकल में एनीमेशन के प्रकार के बारे में विस्तार से जानेंगे।
एनीमेशन कितने प्रकार के होते हैं?

जैसा कि आपको पता ही होगा कि एनीमेशन मूल रूप से 3 प्रकार के होते हैं।
2D एनीमेशन
3D एनीमेशन
VFX यानी विसुअल/वर्चुअल इफ़ेक्ट 

कुछ और अन्य एनीमेशन तकनीक भी हैं 
1) Stop Motion:
2) Claymation:
3) Cel Animation:
4) Paint-On-Glass Animation:


2D एनीमेशन
ये वो एनीमेशन होते हैं जिनमे आपको मात्र सामने के विजुअल ही दिखाई देते हैं, जैसे आप किसी चलते हुए चित्र या तस्वीर को फ्रेम दर फ्रेम देखते है, यानी हम इन एनीमेशन में मात्र आपको उस स्क्रीन पर चल रहे प्रोग्राम का केवल एकतरफा नजारा ही मिलेगा। इस प्रकार के एनीमेशन में आपको स्लाइड या फ्रेम में एक ही वस्तु को एनीमेशन में दिखाने के लिए बहुत सारे फ्रेम बनाने पड़ते हैं उनके हर मूवमेंट की अलग-अलग से। 2D एनीमेशन बनाने के लिए आपका ड्राइंग कौशल में प्रवीण होना जरुरी है। 2D एनीमेशन तब होता है जब 3D एनवायरनमेंट की बजाय 2D स्पेस में सीन और कैरेक्‍टर एनिमेटेड होते हैं। 2D एनीमेशन आप कागज और कंप्यूटर दोनों से बना सकते हैं। 

आजकल एनीमेशन डिज़ाइनर/कलाकार 2D एनीमेशन में सब कुछ बनाने के लिए कंप्यूटर सॉफ़्टवेयर का उपयोग करते हैं, जिसमें एनवायरनमेंट, कैरेक्‍टर, दृश्य प्रभाव सब शामिल होते हैं। 

जब से कंप्यूटर का प्रचलन बढ़ा है तब से  हर एनिमेटर अपनी कलाकारी कंप्यूटर से के माध्यम से ही त्यार करता है जो की कुछ सालों पहले यानि 20 वीं शताब्दी के अधिकांश हिस्सों में, पेपर पर चित्रों की तस्वीरें ले कर एनीमेशन किया जाता था और फिर उन्हें सेल नामक पारदर्शी एसीटेट शीट पर रख कर एनीमेशन त्यार किया जाता था। इस प्रकार के एनीमेशन का यह तरीका  कंप्यूटरों के आने के बंद हो गया, कंप्यूटर से कलाकार डिजिटल एनिमेशन बनाते हैं। बहुत से सॉफ्टवेयरों की मदद से सारा काम हो जाता है, एक एनिमेटर को ज्यादा पेपर शीट बनाने की जरुरत नहीं होती। 

एनीमेशन कितने प्रकार के होते हैं?

पेपर की बजाय कंप्यूटर सॉफ्टवेयर में फीचर्स का एक बड़ा टूलबॉक्स होता है जो आर्टिस्ट्स/कलाकार  को कई तरीकों से एनीमेशन में हेरफेर करने में मदद करते हैं, जिसमें टाइमिंग जैसे महत्वपूर्ण एलिमेंट को फाइन-टयून करने से कोई भी करैक्टर बिलकुल स्‍मूथ दिखता है। यदि आप कुछ तकनीकों तक सीमित न रहते हुए एक अच्छा 2D एनिमेटर बनना चाहते हैं, तो आपके लिए यह जानना आवश्यक है कि प्रत्येक टूल काम क्या है और इसका उपयोग प्रभावी ढंग कैसे करना हैं।

2D एनीमेशन का उपयोग !
 कंप्यूटर और मोबाइल तकनीक के शुरुआती दौर में जितने भी वीडियो गेम थे सभी 2D तकनीक पर आधारित थे। मौजूदा समय में 2D एनीमेशन का व्यापक रूप से कई रचनात्मक उद्योगों में उपयोग किया जाता है। 3D एनीमेशन के साथ-साथ 2D एनीमेशन का व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है। जैसे की टीवी पर दिखाए जाने वाले कार्टून सिरिज और जापानी एनीम से वीडियो गेम और पूर्ण फीचर फिल्मों तक सब कुछ 2D में किया जाता है। 

टेलीविजन वह जगह है जहां 2D एनीमेशन अभी भी सबसे अधिक उपयोग किया जाता है। 2D एनीमेशन के साथ किए गए प्रोग्राम की संख्या विस्तृत है। 2D एनीमेशन के दम पर आज बहुत से कार्टून चैनल चल रहे हैं।

  
CGI जिसे computer-generated imagery कहा जाता है, एक बिल्कुल आधुनिक टेक्‍नोलॉजी है जो 1990 के दशक के दौरान प्रयोग में लाइ गयी थी।

2D Animation Software : Toon Boom Studio, Autodesk’s SketchBook Pro, Anime Studio Debut, DrawPlus, FlipBook Lite, Adobe Photoshop, The TAB Pro, CrazyTalk Animator, MotionArtist, Flip Boom Cartoon

आप हमारे यूट्यूब चैनल पर जाकर सभी प्रकार के 3D एनीमेशन सॉफ्टवेयर फ्री में सिख सकते हैं। ये है हमारे यूट्यूब चैनल का लिंक : Home Design India 3D Software Class



3D एनीमेशन
3D एनीमेशन वो होते हैं जिन एनीमेशन में हम किसी भी वस्तु या अन्य आकृति को उसके पॉइंट पर 360 डिग्री घुमा सकते हैं। ये वो एनीमेशन होते हैं जिनमेआपको वास्तविकता का अहसास होता है यानि 3D एनीमेशन एक कंप्यूटर प्रोग्राम के उपयोग के साथ तीन आयामी वस्तुओं और वर्चुअल वातावरण के हेर-फेर से आपको भर्मित किया जाता है। आजकल 3D एनीमेशन इतना लोकप्रिय हो गया है क्योंकि इसका उपयोग यथार्थवादी वस्तुओं और दृश्यों को बनाने के लिए किया जा सकता है।

3D एनीमेशन बनाने के लिए एनीमेटर्स सबसे पहले पहले इसे किसी भी कंप्यूटर 3D सॉफ्टवेयर में फॉर्म देने के लिए विभिन्न जुड़े हुए कोने के साथ एक 3D पॉलीगॉन या अन्य शेप का जाल/ग्रिड बनाते हैं, उसके बाद उसमे विभिन्न प्रकार की मॉडिफिकेशन करके एक करेक्टर बनाते हैं। इसके बाद बनाई गयी संरचना को जिवंत करते हैं जिसमे आर्मेचर की मदद ली जाती है। आर्मेचर, जो एक ढाँचे की संरचना होती हैं, उसे ऑब्जेक्ट को विशिष्ट पॉज़ में प्रकट करने के लिए कुशलतापूर्वक प्रयोग किया जाता है। आर्मेचर की हर गतिविधि को तिम्लिने पर फ्रेम दर फ्रेम रिकॉर्ड करके ये एनीमेशन बनाया जाता है। 3D एनीमेशन में विसुअल अत्यंत ही वास्तविक और जिवंत दिखाई देते हैं। 


किसी भी 3D एनिमेशन को बनाने के लिए एक कंप्यूटर और 3D सॉफ़्टवेयर/प्रोग्राम की आवश्यकता होती है, जो आम तौर पर बहुत सारे फीचर्स के साथ आता है और जिसमे आप मॉडलिंग और सिमुलेशन के द्वारा किसी भी प्रकार की आकृति बना सकते हैं। इसमें लाइटिंग, विश़ूअल इफेक्‍ट, फीजिक्‍स, और अन्य एलिमेंट को जोड़ने के लिए विभिन्न टूल्‍स सामान्य रूप से शामिल होते हैं। इन टूल्स की मदद से ही आप इनमे वो भावनाएं डाल सकते है जिससे हमे वो जीवन लगने लगती है। 
एनीमेशन कितने प्रकार के होते हैं?

3D कंप्यूटर टेक्नोलॉजी से पहले ये काम होता जरूर था लेकिन वो एक स्तर तक ही सिमित था। 3D एनीमेशन की सबसे नज़दीकी चीज स्टॉप-मोशन/stop-motion और क्लेमेशन थी, जिसमें वास्तविक जीवन वस्तुओं का उपयोग करना और गति के भ्रम को दिखाने के लिए चित्र लेना शामिल था। आजकल यह काल्पनिक दुनिया को दिखने का और एनीमेशन का सबसे लोकप्रिय रूप है। 3D तकनीक का उपयोग टीवी शो, वीडियो गेम और फीचर फिल्मों में आजकल बहुतायत में किया जाता है। 

यहाँ मैं आपको बतादूँ की Jungle book,Transformers, Avatar, The Avengers, Robot जैसी लाइव-एक्शन फिल्में जितनी प्रभावशाली आपको लगी हैं सब 3D एनीमेशन और VFX तकनीक का कमाल है। अगर इन सभी फिल्मों में से सारे 3D एलिमेंटस् को हटा दिया जाये तो, ये फ़िल्में आपको बिलकुल भी रोचक और प्रभावशाली नहीं लगेगी। इसी प्रकार 3D वीडियो गेम भी आपको वही रोचकता प्रदान करते हैं, सिर्फ और सिर्फ 3D विजुएलाइजेशन तकनीक के कारण। 


Most popular 3D animation Software : 
Autodesk Maya, Autodesk 3ds Max, Unity, CINEMA 4D, Houdini, Autodesk Softimage, LightWave, Modo, TurboCAD Deluxe, SketchUp.

2D और 3D एनीमेशन का प्रयोग पहले से कहीं अधिक उपयोग विज्ञापनों, उद्योगों में किया जाता है। जैसे की -

गेम्‍स/games, मुविज/movies, टेलीविजन प्रोग्राम/TV program, इंटीरियर डिजाइनिंग/interior designing, बिज़नेस/business, आर्किटेक्चर/archtecture, मेडिसिन/medicine और कई अन्य मल्टीमीडिया फ़ील्ड/multimedia fields.

VFX क्या है 
ये भी एक प्रकार के एनीमेशन ही होते हैं, इनका प्रयोग आजकल फिल्मों और टीवी सीरियलों में बहुत ज्यादा होता है। VFX के माध्यम से हम फिल्मों में बहुत सारी ऐसी चीजें देख पाते हैं जो वास्तविकता से कतई परे होती है। किसी भी प्रकार के वीडियो प्रोडक्शन में जब कोई सीन फिल्माने में महंगा हो या फिर खतरनाक हो तो उस सीन को कंप्यूटर VFX तकनीक से बनाते हैं जिसमे कुछ स्पेशल इफ़ेक्ट/Special Effects का इस्तेमाल किया जाता है यह Effects वीडियो बनाने के साथ में भी लगाया जा सकता है या वीडियो एडिट/edit  करते समय लगाया जा सकता है। तो इन सभी इफेक्ट्स को ही VFX कहा जाता है। 

जैसा की हम ऊपर जिक्र कर चुके हैं की इसका इस्तेमाल सबसे ज्यादा टीवी और फिल्म इंडस्टी में सबसे ज्यादा होता है, या फिर किसी भी विज्ञापन को प्रभावी ढंग से दिखाने के लिए इस प्रकार के VFX का इस्तेमाल किया जाता है। बेशक ये सारा काम होता टीवी जगत के लिए ही है। फिल्म और टीवी प्रोग्राम मेकिंग में आज के समय में बहुत ज्यादा विजुअल इफेक्ट्स/visula effects का इस्तेमाल हो रहा है। इस तकनीक को इस्तेमाल करने का बहुत ही फायदा भी है, इससे समय और पैसे दोनों की बचत होती है। इसके लिए आपको कहीं बाहर अपने प्रोग्राम के लिए शूट करने की जरुरत नहीं होती आप किसी भी स्टूडियो में क्रोमा स्क्रीन पर इसे बनवा सकते हैं। 


आजकल आप  बहुत सारी  होंगे जिनमे बहुतायत में VFX का प्रयोग किया गया होता है। एक बहुत ही प्रचलित फिल्म है बाहुबली/Bahubali  जिसमे सारा काम VFX तकनीक से ही किया गया  है। किसी भी वीडियो में VFX लगाने के लिए दो तरह की स्क्रीन का इस्तेमाल किया जाता है, एक Green स्क्रीन और दूसरी Blue स्क्रीन। इन स्क्रीन को क्रोमा स्क्रीन बोला जाता है। इन स्क्रीन की मदद से वीडियो के बैकग्राउंड को बड़ी आसानी से हटाया जा सकता है और उसके अंदर अलग विसुअल या एलिमेंट्स/Elements को Add किया जा सकता है। क्रोमा स्क्रीन से शूट करके आप वीडियो के बैकग्राउंड में पहाड़, नदियां, मैदान, किला या अन्य कोई भी बैकग्राउंड जोड़ सकते हैं।   

एनीमेशन कितने प्रकार के होते हैं?
VFX Effects

VFX में प्रयोग होने वाले Software :

VFX / 3D:
Blender
3D Studio Max
Maya
Cinema 4D

VFX / Compositing:
Adobe After Effects
Adobe Photoshop
Nuke

Screenwriting:
Celtx
Final Draft
Apple’s Pages (it includes a useful screenplay template

Editing:
Final Cut Pro
Adobe Premiere
Avid

Audio:
Protools
Adobe Soundbooth
Audacity

हमारे और आर्टिकल पढ़ने के लिए मोबाइल में हमारी पोस्ट ओपन करने के बाद सबसे निचे View Web Version पर क्लीक करें, ताकि आप हमारे बाकि की पोस्ट भी पढ़ सकें।
दोस्तों अगर आपको हमारे द्वारा दी गई जानकरी अच्छी लगी तो, इस आर्टिकल को ज्यादा से ज्यादा लोगो तक Share करे तथा इस आर्टिकल संबंधी अगर किसी का कोई भी सुझाव या सवाल है तो वो हमें जरूर लिखें



Join us :
My Facebook :  Lee.Sharma




No comments:

Post a Comment