Skip to main content

विज़ुअल बेसिक डॉटनेट क्या है? What is VB.Net? in Hindi

विज़ुअल बेसिक डॉटनेट क्या है? What is VB.Net? in Hindi
दोस्तों नमस्कार, हमारे पिछले आर्टिकल में हमने आपको Visual Basic के बारे में विस्तार से बताया था, आज हम उसी से जुडी या ये कहें की उसी का Upgrade Version कही जाने वाली VB.Net प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के बारे में आपको बताने वाले हैं। तो आइये जान लेते हैं कि विज़ुअल बेसिक डॉटनेट क्या है/What is VB.Net in Hindi विजुअल बेसिक/VB माइक्रोसॉफ्ट/Microsoft द्वारा अपने ऑपरेटिंग सिस्टम विंडोज/Windows के लिए विकसित की गयी एक प्रोग्रामिंग भाषा है। VB.Net, विसुअल बेसिक का ही विकसित रूप है। वैसे तो VB भाषा को 1992 में माइक्रोसॉफ्ट कंपनी द्वारा विकसित किया गया था, लेकिन साल 2008 में इसे बंद कर दिया गया और VB की जगह VB.Net को लांच कर दिया गया। विजुअल बेसिक बेसिक/BASIC भाषा से बनाया गया है, बेसिक भाषा अन्य भाषाओं की तुलना में पढ़ने में आसान होती है। यह ग्राफिकल यूजर इंटरफेस/GUI के रैपिड एप्लीकेशन डेवलपमेंट/RAD का समर्थन करती है। कंप्यूटर की मूल यूनिट 
What is VB.Net Language?

VB.Net एक उच्च स्तर/High level प्रोग्रामिंग भाषा है। अन्य प्रोग्रामिंग भाषाओँ की तुलना में विजुअल बेसिक इतनी लोकप्रिय नहीं रही, जिसके कारण इसे माइक्रोसॉफ्ट कंपनी द्वारा बंद करना पड़ा। कई कंपनियों के द्वारा विजुअल बेसिक की आलोचना की गई थी। लेकिन VB.Net एक ऐसी उच्च स्तरीय प्रोग्रामिंग भाषा है, और इसे .NET फ्रेमवर्क पर लागू किया गया है। जिससे इसके द्वारा सभी तरह के प्रोफेशनल एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर डेवलप करने के लिए हमें आवश्यक टूल्स/Tools मिल जाते हैं। हम इन टूल्स का इस्तेमाल कर थोड़े समय में और आसानी से किसी भी प्रोजेक्ट् व एप्लीकेशन को विकसित कर सकते हैं। यहाँ आपको बतादें कि किसी भी प्रोग्रामर के लिए विजुअल बेसिक ज्यादा महत्वपूर्ण नहीं है, लेकिन आप प्रोग्रामर बनने के लिए इसके बेसिक प्रोग्रामिंग टूल/Basic Programming Tool को सीख सकते हैं। थोड़े समय मेहनत करके आप विजुअल बेसिक स्टूडियो/Visual Basic Studio, विजुअल बेसिक. नेट/VB.NET और अन्य प्रोग्रामिंग टूल पर काम कर सकते हैं। VB.NET की मदद से आप कोई भी एप्लीकेशन प्रोग्राम बहुत जल्दी और आसानी से बना सकते हैं।
रैम क्या होती है 
विज़ुअल बेसिक डॉटनेट की विशेषताएं/Features of Visual Basic.Net

  • ऑब्जेक्ट ओरिएंटेड प्रोग्रामिंग/Object Oriented Programming: विज़ुअल बेसिक डॉटनेट/VB.NET ऑब्जेक्ट ओरिएंटेड प्रोग्रामिंग के सभी विशेषताओं का समर्थन करती है।
  • GUI इंटरफ़ेस/GUI Interface: ग्राफिकल यूजर इंटरफेस के लिए यूजर इसका प्रयोग करते हैं, यह प्रोग्रामिंग लैंग्वेज, विंडोज़ ऑपरेटिंग सिस्टम के लिए एप्लीकेशन, वेबसाइट्स आदि बनाने की सुविधा देता है।
  • इंटीग्रेटेड डेवलपमेंट एनवायरनमेंट/Integrated Development Environment: VB.NET विजुअल स्टूडियो का उपयोग करके एक इंटीग्रेटेड डेवलपमेंट एनवायरनमेंट/IDE प्रदान करती है, जिसे जीयूआई/GUI के लिए कार्यक्रम बनाने में प्रयोग किया जाता है। इसमें कई विंडोज होती हैं, जो प्रोग्राम बनाने में मदद करती है, जैसे- प्रॉपर्टीज़ विंडो, टूलबॉक्स आदि।
  • यूजर इंटरफ़ेस डिज़ाइन/User Interface Design: VB.NET यूजर इंटरफेस के डिजाइन की अनुमति देता है। इसमें विंडोज़ फॉर्म/Form डिज़ाइनर होता है, जो विंडोज़ के लिए एक फॉर्म डिजाइन करता है।  इसमें टूलबॉक्स की सहायता से यूआई/UI डिजाइन किया जा सकता है। 
  • रैपिड एप्लीकेशन डेवलपमेंट/Rapid Application Development: VB.NET रैपिड एप्लिकेशन डेवलपमेंट/RAD का समर्थन करता है, इसमें यूजर को सभी कोड टाइप करने की ज़रूरत नहीं होती, बल्कि यह स्वचालित रूप से कई कोडिंग खुद करती है। इसमें फॉर्म डिजाइन की तरह, इवेंट्स के लिए कोड स्वचालित आ जाते हैं। 
  • ऑटो कम्पलीट/Autocomplete का कोड एडिटर ऑटो कम्पलीट होने की अनुमति देता है। अपने कोड एडिटर में कोड लिखते समय, कोड स्वचालित/Automatically रूप से पूरा करता है, ताकि यूजर का समय बचाया जा सके। 
  • ऑटो क्विक इनफार्मेशन/Auto Quick Information: इस सुविधा के कारण कोड लिखते समय, यूजर के बिना फ़ंक्शन लाइब्रेरी को खोले, यह Syntax, Properties का Description, Variable Deceleration आदि को एक पीली पट्टी में एक टिप के रूप में देखा देती है,जिसे ऑटो क्विक इनफार्मेशन कहा जाता है।
  • ऑटो लिस्ट ऑफ़ मेम्बेर्स/Auto List Of Members: VB.NET में ऑब्जेक्ट का नाम टाइप करने के बाद डॉट लगाना होता है, जो की सभी मेम्बेर्स (प्रॉपर्टी और मेथोड्स) की एक सूची प्रदर्शित करता है, जिसमें यूजर किसी भी मेम्बर का चयन कर सकता है।
  • ऑटो सिंटैक्स चेक/Auto Syntax Check: VB.NET का कोड एडिटर स्वतः सिंटैक्स त्रुटि/Syntax Error की जांच कर त्रुटि/Error को दिखाता है।
  • ऑटो कंपाइल/Auto Compile: VB.NET में ऑटो कम्पाइल सिस्टम मौजूद होता है, जो प्रोग्राम को स्वचालित रूप से त्रुटि/गड़बड़ी को कमपाईल/Compile करके त्रुटि/Error दिखाता है। इसमें लॉजिकल त्रुटियों/Logical Errors को छोड़कर सभी त्रुटियां शामिल होती हैं। 
  • हेल्प सिस्टम/Help System: VB.NET आपको ऑनलाइन/Online और ऑफ़लाइन/Offline दोनों प्रकार की सहायता प्रदान करती है, इसके लिए आप इंटरनेट/Internet और एमएसडीएन/MSDN/Microsoft Developer Network के द्वारा ऑफ़लाइन मदद भी प्राप्त कर सकते हैं। 
तो दोस्तों आशा करता हूँ की आपको हमारे द्वारा दी गई ये जानकारी पसंद आयी होगी। अगर इससे सम्बंधित आप कोई सलाह या सुझाव हमें देना चाहते हैं तो आपका स्वागत है। आप हमारे दूसरे आर्टिकल के लिए हमें सब्सक्राइब भी कर सकते हैं। आप हमें कमेंट करके बता भी सकते हैं कि आपको किसी विषय पर हमारी वेबसाइट पर जानकरी चाहिए, हम जल्द से जल्द वो जानकारी हमारी वेबसाइट पर आपके लिए उपलब्ध करने की कोशिश। हमारी इस जानकारी को दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें। धन्यवाद 
Join us :
My Facebook:  Lee.Sharma

हमारे और आर्टिकल यहाँ पढ़ें :

Comments

Popular posts from this blog

आर्मी ऑफिसर कैसे बने। how to become Indian Army officer, what is NDA?

प्यारे बच्चो नमस्कार
में हमारी इस ब्लॉग वेबसाइट पर टेक्नोलॉजी ओर एजुकेशन से संबंधित आर्टिकल लिखता हूँ, ऐसे आर्टिकल जो बच्चों के आने वाले भविष्य में काम आ सकें। हमारे आर्टिकल आपको किसी भी जॉब की पूर्ण जानकारी देने वाले होते हैं। हमारी इस जानकारी के माध्यम से बच्चे सही दिशा का चुनाव कर अपने भविष्य को सफल बना सकते हैं।

आज के इस आर्टिकल में हम बात करने वाले हैं कि आप भारतीय सेना में एक ऑफिसर कैसे बन सकते हैं, बेशक वो थल सेना, वायु सेना या जल सेना ही क्यों न हो। अगर आपमे देश सेवा करने का जज्बा है तो आप इस क्षेत्र का चुनाव कर सकते हैं, ऐसा नही की आपमे देश सेवा का जज्बा हो और आप इसमें जा सकते हैं, इसके लिए आपको बहुत मेहनत भी करनी पड़ेगी। अगर आप पढ़ाई में बहुत अच्छे हैं तभी आप इसमें सेलेक्ट हो सकते हैं। आइये जान लेते हैं NDA क्या है?
NDA यानी "National Defense Academy" ओर हिंदी में इसे "राष्ट्रीय रक्षा अकादमी" कहा जाता है, NDA दुनिया की पहली ऐसी अकादमी है जिसमे तीनो विंगों के लिए प्रशिक्षण दिया जाता है।
आर्मी अफसर कैसे बने!
भारतीय सेना की तीन विंग हैं, army, air force and navel, अ…

Architecture क्या है ? Architect कैसे बने!

दोस्तों नमस्कार, हमारी वेबसाइट/Website LSHOMETECH पर आपका स्वागत है, हम अपने इस Portal पर Technology और Education से सम्बंधित आर्टिकल लिखते हैं, जो आपके लिए ज्ञान और जानकारी के प्रयाय होते है, आज की इस पोस्ट में हम जानेंगे की Architect क्या होता है? कृपया पूरी जानकारी के लिए पूरी पोस्ट को पढ़ें, साथ ही टेक्नोलॉजी से जुडी किसी अन्य जानकारी के लिए आप हमारे वेबसाइट के बाईं/Left और दिए गए दूसरे आर्टिकल भी पढ़ सकते हैं।

आज का जो हमारा विषय है वो है आर्किटेक्ट कैसे बने और आर्किटेक्चर है क्या?  सबसे पहले इन दोनों शब्दों का हिंदी में अगर अनुवाद करे तो  आर्किटेक्चर का मतलब है - वास्तुकला
और  आर्किटेक्ट का मतलब है - वास्तुकार
यदि आपकी भी रुचि आर्किटेक्ट बनने की है, या फिर आपको भी नए-नए प्रारूप /डिजाइन बनाने का शौक है या फिर आप नई-नई इमारतों के बारे में प्लान या नक्शे बनाने का शौक रखते हैं तो आर्किटेक्चर इंजीनियरिंग आपके लिए सबसे बढ़िया रास्ता है जो आपको आपकी मनचाही मंजिल तक ले जाने में आपकी सहायता करेगा।
पहले जान लेते हैं आर्किटेक्चर या वास्तुकला क्या है?
दोस्तो वास्तुकला ललितकला की ही एक शाखा है, व…

DPC क्या होती है? What is DPC?

दोस्तों नमस्कार
                        आज के इस लेख में हम बात करेंगे की डीपीसी क्या होती है? और इसकी घर बनाते वक्त क्या जरूरत है यानी दीवारों के ऊपर डीपीसी लगाने की हमें क्या जरूरत पड़ती है किस कारण या किस चीज़ की रोकथाम के लिए हम डीपीसी लगाते हैं। साधारण दीवार के ऊपर भी आप इसको लगा सकते हैं।
डीपीसी क्या होती है?
दोस्तों आइए पहले जान लेते हैं कि डीपीसी का मतलब क्या होता है डीपीसी का मतलब होता है "Dump Proofing Course" यानी नीवं ओर ऊपरी दीवार के बीच  का जुड़ाव कहे  या व्यवधान कह सकते हैं जो कि आप के घर की सीलन या नमि को दीवारों में ऊपर चढ़ने से रोकता है और आपकी जो दीवारें हैं सदैव अच्छी बनी रहती है। सीलन नहीं होगी तो आप जो प्लास्टर करते हैं पेंट करते हैं वह कभी नहीं झडेगा या उखड़ेगा,वह बिल्कुल सही रहता है हमेशा हमेशा लंबे समय तक टिकाऊ बना रहता है। 
डीपीसी की जरूरत क्या है हमें!
प्यारे मित्रों जो डीपीसी होती है वह दो प्रकार की आप यूज़ कर सकते हैं दोनों डीपीसी के प्रकार में आपको बताऊंगा कि कौन-कौन से प्रकार होते हैं देखिए सबसे पहले जब भी हम हमारे घर की नींव का निर्माण करते हैं उ…