10 जनवरी विश्व हिंदी दिवस/World Hindi Day क्यों मनाया जाता है? - LS Home Tech

Home Top Ad

Post Top Ad

Saturday, December 21, 2019

10 जनवरी विश्व हिंदी दिवस/World Hindi Day क्यों मनाया जाता है?

प्रिय पाठकों नमस्कार, हमारे इस वेब पोर्टल पर आपका स्वागत है, इस Portal पर हम Technology ओर Education से जुड़े आर्टिकल लिखते है, जो सामान्य ज्ञान और किसी भी परीक्षा की तैयारी हेतु आपके लिए बड़े ही उपयोगी और ज्ञानवर्धक होते हैं। आज के इस आर्टिकल में हम विश्व हिंदी दिवस/World Hindi Day मनाए जाने के पीछे की कहानी आपको बताएंगे। इसलिए आपसे अनुरोध है कि हमारी इस पोस्ट को पूरा पढ़ें और दोस्तों के साथ शेयर करें।
विश्व हिंदी दिवस/World Hindi Day क्यों मनाया जाता है

World Hindi Day 2020/विश्व हिंदी दिवस 2020 
प्रत्येक समाज की अपनी एक भाषा विशेष होती है, एक छोटे से समाज से लेकर एक विस्तृत देश की अपनी विशेष भाषा होती है जिससे वो आपसी व्यवहार, प्रतिक्रियाएँ एक दूसरे के साथ सांझा कर सके। उनकी इसी जन्म से जुड़ी भाषा को मातृभाषा कहते हैं। हर देश के लोगों को अपनी मातृभाषा पर गर्व होता है। हम भारतीय हैं ओर सनातन काल से ही संस्कृत के बाद हिंदी हमारी राष्ट्रभाषा हैं। हर साल 10 जनवरी के दिन विश्व हिंदी दिवस/World Hindi Day मनाया जाता हैं। तय किये गए इस दिन के माध्यम से ही जन-जन में अपनी भाषा के प्रति प्रेम जगाने तथा इसके प्रचार व प्रसार के लिए इस दिन का आयोजन किया जाता हैं। भारत के महाराष्ट्र राज्य के नागपुर शहर में पहला हिंदी भाषा का अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन 10 जनवरी 1975 को आयोजित किया गया था। इस उपलक्ष्य में हम हर साल इस दिन यानी 10 जनवरी को विश्व हिंदी दिवस के रूप में मनाते हैं। 

राष्ट्रीय गणित दिवस के बारे में यहाँ पढ़ें 


विश्व हिंदी दिवस क्यों मनाया जाता है?/Why World Hindi Day is celebrated?
भारत एक ऐसा देश है जिनमे भाषाओं की विविधता है, यहां पर लगभग 16 के करीब भाषाएँ है जो जो देश के अलग-अलग क्षेत्रों में बोली जाती हैं, इन्ही क्षेत्रों में एक-एक ऐसा वर्ग भी है जो हिंदी भाषा को जानते हुए भी अनेक अवसरों पर टूटी-फूटी हिंदी बोलने में ही स्वयं को गौरवान्वित महसूस करते हैं। ऐसे लोगों में हिंदी के प्रति उनका रुझान बढ़ाने के लिए 10 जनवरी के दिन को हिन्दी दिवस के रूप में मनाया जाता है। हमारे देश के पूर्व प्रधानमंत्री श्री मनमोहन सिंह जी ने भारत में हुए प्रथम हिंदी महासम्मेलन के दिन की तारीख को ही हिंदी दिवस के रूप में मनाने का निर्णय साल 2006 में 10 जनवरी को ही निश्चित किया था। साल 2006 से लेकर आज तक इसे हर साल मनाया जाता हैं। अब तो पूरे विश्व में हर साल 10 जनवरी को भारत ओर विभिन्न देशों में स्थित भारतीय दूतावासों में विश्व हिंदी दिवस मनाया जाता हैं। साल 2020 में विश्व हिंदी दिवस का 14 वाँ वर्ष होगा।

विश्व हिंदी दिवस जहां 10 जनवरी को मनाना निर्धारित किया गया है वहीं राष्ट्रीय हिंदी दिवस/National Hindi Day 14 सितंबर को मनाया जाता है। क्योंकि 14 सितम्बर 1949 के दिन ही संविधान सभा ने देवनागरी लिपि में लिखी गई हिंदी को संघ की राजभाषा के रूप में अपनाया था। साल 1953 में 14 सितंबर को हर साल राष्ट्रीय हिंदी दिवस/National Hindi Day मनाने का निर्णय लिया गया था। जहां विश्व हिंदी दिवस/World Hindi Day का फोकस वैश्विक स्तर पर प्रचार करना है, वहीं राष्ट्रीय हिंदी दिवस/National Hindi Day देश भर में आयोजित किया जाता है।


हिंदी दिवस मनाने का उद्देश्य।
इस दिन को मनाने के पीछे उद्देश्य यही है कि हिन्दी के प्रचार-प्रसार का माहौल एक अलग स्तर तक किया जाए, जिससे कि आमजन में हिंदी के प्रति अनुराग पैदा किया जाए।साथ ही  लोगों को अपनी मातृभाषा को अपनाने के लिए जागरूक किया जाए।

हिंदी भाषा के बारे में कुछ रोचक तथ्य/Amazing Fact About Hindi Language

  • वर्तमान में हिंदी एक भाषा के रूप में दुनिया भर के 20 से अधिक देशों में बोली जाती है और दुनिया के 150 विश्वविद्यालयों में पढ़ाई जा रही है।
  • एक भाषा के रूप में हिंदी दुनिया की चौथी सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा है।
  • वर्ल्ड इकोनोमिक्स फोरम के अनुसार हिंदी को विश्व की दस ताकतवर एवं समृद्ध भाषाओं में शुमार किया गया है।
  • एक अनुमान के मुताबिक़ भारत में लगभग 260 मिलियन लोग हिंदी भाषा जानते हैं।
  • भारतीय संविधान में संघ की आधिकारिक भाषा नीति को अनुच्छेद/Article-120 (भाग-V), अनुच्छेद/Article-210 (भाग-VI) और विशेषकर भाग XVII, अनुच्छेद/Article-343, 344 और 348 से 351 के तहत विस्तार से समझाया गया है।
  • 14 सितंबर 1949 के दिन भारतीय संविधान द्वारा हिंदी को राजभाषा के रूप में स्वीकार किया था। इस कारण इस दिन को राष्ट्रीय हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता हैं।
  •  देश के कुछ दक्षिण और पूर्वी हिस्सों को छोड़कर दिल्ली, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, छत्तीसगढ़, हिमाचल प्रदेश, चंडीगढ़, बिहार, झारखंड, मध्य प्रदेश, हरियाणा और राजस्थान में रहने वाले अधिकतर लोगों की बोलचाल की भाषा हिंदी ही हैं।
  • विदेशों में विश्व हिंदी दिवस के दिन कई कार्यक्रम आयोजित किये जाते है तथा हिंदी के विदेशों में प्रचार प्रसार के लिए कदम उठाए जाते हैं।
  • भारत के अतिरिक्त फिजी एक ऐसा देश है जिसकी राष्ट्रभाषा के रूप में अंग्रेजी, फिजियन और हिंदी को मान्यता दी गई हैं।
  • हिंदी की गिनती प्राचीन भाषाओं में की जाती है इसका इतिहास एक हजार वर्ष पुराना हैं।
  • बताया जाता है कि हिंदी शब्द का प्रयोग अरबी मुसलमानों ने भारत के लोगों की भाषा के लिए किया था।
  • पहले स्थान पर अंग्रेजी इसके बाद चीनी और रसियन तथा चौथा नाम हिंदी का आता हैं
  • भारत के बाहर  पाकिस्‍तान, नेपाल, बांग्‍लादेश, अमेरिका, ब्रिटेन, जर्मनी, न्‍यूजीलैंड, संयुक्‍त अरब अमीरात, युगांडा, गुयाना, सूरीनाम, त्रिनिदाद, मॉरिशस और साउथ अफ्रीका इन देशों में हिंदी बोलने वालों की संख्या लाखों में हैं।
तो दोस्तो आपको हमारी ये पोस्ट कैसी लगी हमें जरूर लिखे, आप पोस्ट के नीचे Comment Box  में अपनी प्रतिक्रियाएं ओर अगर कोई सुझाव है तो वो भी लिख कर भेज सकते हैं। साथ ही आप हमें हमारे द्वारा प्रकाशित नए लेख पढ़ने के लिए Subscribe भी कर सकते हैं।

Join us :
My Facebook :  Lee.Sharma

No comments:

Post a Comment

Featured Post

5G टेक्नोलॉजी के फायदे और नुकसान। Advantages and Disadvantages of 5G Technology.

जैसे-जैसे टेक्नोलॉजी का विकास होता जा रहा है, टेक्नोलॉजी हमारे जीवन को समृद्ध बना रही है, इसके बहुत से फायदे होने के साथ ही कुछ नुकसान भी ...

Contact Form

Name

Email *

Message *

Newsletter

Advertisement

Post Top Ad

Your Ad Spot