Skip to main content

विजुअल बेसिक क्या है? What is Visual Basic?

हमारे सभी पाठकों को हमारी और से स्प्रेम नमस्कार, हम अपने इस वेब पोर्टल पर टेक्नोलॉजी और एजुकेशन से सम्बंधित हर प्रकार के पोस्ट लिखते हैं, जो आप सभी के लिए बहुत ही ज्ञानवर्धक होते हैं। हमारा ब्लॉग लिखने का मुख्य उद्देश्य Computer Technology और Education को जन-जन तक पहुँचाना है। मैं चाहता हूँ की हर भारतवासी को टेक्नोलॉजी की जानकारी हिंदी भाषा में मिले ताकि वो इसे आसानी से पढ़ सके और समझ सके। में आप सभी पाठकों से भी आशा करूंगा की आप भी हमारी इस मुहीम में शामिल हों और इसे लोगों के साथ शेयर करें, ताकी ज्यादा से ज्यादा लोग इस जानकारी का फायदा उठा सकें। आज की हमारी इसी ब्लॉग पोस्ट में मैं उन सभी छात्रों के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण जानकारी लाया हूँ, जो Computer Software Developer बनना चाहते हैं, इसमें मैं आपको Mocrosoft की Programiing Language विजुअल बेसिक/Visual Basic के बारे में विस्तार से बताऊंगा। सबसे पहले नए छात्रों को ये जानना जरुरी है, कि विजुअल बेसिक क्या है? तो आइये जान लेते हैं।

What is Visual Basic, Visual Studio?


विजुअल बेसिक क्या है? What is Visual Basic?

विसुअल बेसिक/Visual Basic एक कंप्यूटर प्रोग्रामिंग भाषा है, जिसको सीखकर आप कंप्यूटर के लिए किसी भी सॉफ्टवेयर का निर्माण कर सकते हैं। इसे VB भी कहा जाता है। इस प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को आप आसानी से सिख सकते हैं। यह Programming Language तीसरी पीढ़ी की Event Driven प्रोग्रामिंग भाषा के अंतर्गत आती है। विसुअल बेसिक Programming Language की मुख्य विशेषता यह है, कि इसके द्वारा आप बड़ी सरलता से किसी भी User की आवश्यकता के अनुसार किसी भी Application/Software को Devlope कर सकते हैं। Visual Basic में Integrated Development Environment यानि  IDE को Contained कर आप माऊस के माध्यम से अपने Application का Developement कर सकते हैं। इसके साथ-साथ आपको Keyboard के माध्यम से Code को टाइप करना होता है, जो कि Executable होना चाहिए। इस Programming language में काफी सारे Built in code होते हैं। इस Code को कोई भी Programmer आसानी से Execute कर सकता है। Visual Basic लैंग्वेज में इसका खास फीचर Database Handeling होता है, जिसके कारण इस भाषा का आधा Application Development इसके माध्यम से ही Control किया जाता है। Visual Basic Programming Language, हमें Internet को Access करने के लिए भी सुविधा प्रदान करती है।

Microsoft Visual Basic का सफर।
विजुअल बेसिक को बेसिक/BASIC भाषा से बनाया गया है। साल 1991 में इस भाषा को Microsoft Corporation द्वारा विकसित किया गया था। इसे माइक्रोसॉफ्ट ने अपने Operating System विंडोज/Windows के लिए विकसित किया था। यह बाकि Programming Language की तुलना में काफी आसान होती है। विज़ुअल बेसिक का सफर इसे शुरुआती वर्जन 1.0 से लेकर 6.0 तक रहा, जो की साल 2008 में ख़त्म हो गया।
Microsoft Visual Basic: 1.0  1991
Microsoft Visual Basic: 2.0  1992
Microsoft Visual Basic: 3.0  1993
Microsoft Visual Basic: 4.0  1995
Microsoft Visual Basic: 5.0  1997
Microsoft Visual Basic: 6.0  1998 to 2008

साल 2008 के बाद माइक्रोसॉफ्ट ने Visual Basic को प्रायोजित करना बंद कर दिया और उसके बाद उन्होंने एक नयी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज का शुभारंभ किया जिसका नाम है VB.Net, इस भाषा को माइक्रोसॉफ्ट द्वारा 2002 में विकसित किया गया था, लेकिन इसे 2008 में सार्वजानिक रूप से जारी किया गया। हमारे अगले लेख में हम VB.Net के बारे में आपको विस्तार से बताएंगे। आइये पहले जान लेते हैं विज़ुअल बेसिक के कुछ खास फीचर के बारे में। 

विज़ुअल बेसिक की खूबियां /Features Of Visual Basic In Hindi
  1. Integrated Development Environment: ये प्रोग्रामिंग भाषा Visual Studio का प्रयोग करते हुये डेवलपर को Integrated Development Environment प्रदान करती है, जिसका प्रयोग GUI के लिए प्रोग्राम बनाने मे होता है। इसमें कई विंडोज होती हैं जैसे –Properties Window, Toolbox, etc.
  2. User Interface Design: ये प्रोग्रामिंग भाषा User Interface को डिज़ाइन करने की सुविधा देती है। इसमे डिज़ाइन करने के लिए Windows Form Designer होता है, जो की Toolbox की सहायता से UI design करने मे सहायता करता है।
  3. Rapid Application Development: ये प्रोग्रामिंग भाषा Application Development को Support करता है, जिसमें यूजर को सभी Code लिखने की आवश्यकता नहीं होती, आप इसमें जैसे ही Form डिज़ाइन करते हैं आपके बहुत से कोड Autometicaly ही आ जाते हैं। 
  4. Object-Oriented Programming: ये प्रोग्रामिंग भाषा Object-Oriented होती है जो की OOPs के सभी फीचर को Support करती है।
  5. Object-Based Language: ये प्रोग्रामिंग भाषा Object-Based Programming Language है, क्यूंकि आप किसी भी Application का निर्माण सीधे इसके Tools से कर सकते हैं। यूजर इसमें Clipboard और Printer को Access कर सकते हैं और साथ ही Mouse और Keyboard को Responds किया जा सकता है। 
  6. Powerful Database Access: ये प्रोग्रामिंग भाषा आपको Powerful Database Access Tool की सुविधा देती है जिसके द्वारा आप Front End Database आसानी से बना सकते हैं।  
  7. ActiveX Technology: इस प्रोग्रामिंग भाषा में ActiveX Technology की सुविधा मौजूद होती है, जिसके द्वारा आप दूसरी एप्लीकेशन की सुविधा का उपयोग भी कर सकते हैं जैसे- Microsoft Word, Excel इत्यादि। 
  8. Easy to Debugging: इस प्रोग्रामिंग भाषा में आप Error की हैंडलिंग आसानी से की जा सकती है, और उसे Debugg किया जा। 
  9. Package Development Wizard: ये प्रोग्रामिंग भाषा Package Development Wizard का सपोर्ट करती है, जिसके द्वारा आप एप्लीकेशन को बड़ी आसानी से Distribute कर सकते हैं। 
  10. Easy to Use: इस प्रोग्रामिंग भाषा में आप Array, Mathmetical, String, Handling और Graphic  Function का उपयोग बड़ी आसानी से कर सकते हैं, और साथ ही Internet और Intranet की सुविधाओं को भी Access कर सकते हैं। 

विज़ुअल बेसिक के संस्करण/Visual Basic Edition In Hindi
Development के आधार पर विज़ुअल बेसिक भाषा को तीन चरणों में बांटा गया है, जो इस प्रकार से है-
  • Visual Basic Learning Edition 
  • Visual Basic Professional Edition 
  • Visual Basic Enterprise Edition
Visual Basic Learning Edition: इस संस्करण में Microsoft Window और Window NT में Programme से Powerful Application का निर्माण किया जा सकता है। 

Visual Basic Professional Edition : इस संस्करण में Learning Edition के सारे गुणों के अलावा ActiveX Controls, Internet Information, Server Application Designer, Integrated Page Designer इत्यादि को शामिल किया गया है। 

Visual Basic Enterprise Edition : इस संस्करण में Learning Edition और Profesional Edition के अलावा Distributable Application बनानेके साथ SQL Server, Microsoft Transaction Server, IIS, SNA Server आदि की सुविधा प्रदान की गई है। 

तो दोस्तों आशा करता हूँ की आपको हमारे द्वारा दी गई ये जानकारी पसंद आयी होगी। अगर इससे सम्बंधित आप कोई सलाह या सुझाव हमें देना चाहते हैं तो आपका स्वागत है। आप हमारे दूसरे आर्टिकल के लिए हमें सब्सक्राइब भी कर सकते हैं। आप हमें कमेंट करके बता भी सकते हैं कि आपको किसी विषय पर हमारी वेबसाइट पर जानकरी चाहिए, हम जल्द से जल्द वो जानकारी हमारी वेबसाइट पर आपके लिए उपलब्ध करने की कोशिश। हमारी इस जानकारी को दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें। धन्यवाद 
Join us :
My Facebook :  Lee.Sharma
My YouTube : Home Design !deas

हमारे और आर्टिकल यहाँ पढ़ें :


Popular posts from this blog

आर्मी ऑफिसर कैसे बने। how to become Indian Army officer, what is NDA?

प्यारे बच्चो नमस्कार
में हमारी इस ब्लॉग वेबसाइट पर टेक्नोलॉजी ओर एजुकेशन से संबंधित आर्टिकल लिखता हूँ, ऐसे आर्टिकल जो बच्चों के आने वाले भविष्य में काम आ सकें। हमारे आर्टिकल आपको किसी भी जॉब की पूर्ण जानकारी देने वाले होते हैं। हमारी इस जानकारी के माध्यम से बच्चे सही दिशा का चुनाव कर अपने भविष्य को सफल बना सकते हैं।

आज के इस आर्टिकल में हम बात करने वाले हैं कि आप भारतीय सेना में एक ऑफिसर कैसे बन सकते हैं, बेशक वो थल सेना, वायु सेना या जल सेना ही क्यों न हो। अगर आपमे देश सेवा करने का जज्बा है तो आप इस क्षेत्र का चुनाव कर सकते हैं, ऐसा नही की आपमे देश सेवा का जज्बा हो और आप इसमें जा सकते हैं, इसके लिए आपको बहुत मेहनत भी करनी पड़ेगी। अगर आप पढ़ाई में बहुत अच्छे हैं तभी आप इसमें सेलेक्ट हो सकते हैं। आइये जान लेते हैं NDA क्या है?
NDA यानी "National Defense Academy" ओर हिंदी में इसे "राष्ट्रीय रक्षा अकादमी" कहा जाता है, NDA दुनिया की पहली ऐसी अकादमी है जिसमे तीनो विंगों के लिए प्रशिक्षण दिया जाता है।
आर्मी अफसर कैसे बने!
भारतीय सेना की तीन विंग हैं, army, air force and navel, अ…

Architecture क्या है ? Architect कैसे बने!

दोस्तों नमस्कार, हमारी वेबसाइट/Website LSHOMETECH पर आपका स्वागत है, हम अपने इस Portal पर Technology और Education से सम्बंधित आर्टिकल लिखते हैं, जो आपके लिए ज्ञान और जानकारी के प्रयाय होते है, आज की इस पोस्ट में हम जानेंगे की Architect क्या होता है? कृपया पूरी जानकारी के लिए पूरी पोस्ट को पढ़ें, साथ ही टेक्नोलॉजी से जुडी किसी अन्य जानकारी के लिए आप हमारे वेबसाइट के बाईं/Left और दिए गए दूसरे आर्टिकल भी पढ़ सकते हैं।

आज का जो हमारा विषय है वो है आर्किटेक्ट कैसे बने और आर्किटेक्चर है क्या?  सबसे पहले इन दोनों शब्दों का हिंदी में अगर अनुवाद करे तो  आर्किटेक्चर का मतलब है - वास्तुकला
और  आर्किटेक्ट का मतलब है - वास्तुकार
यदि आपकी भी रुचि आर्किटेक्ट बनने की है, या फिर आपको भी नए-नए प्रारूप /डिजाइन बनाने का शौक है या फिर आप नई-नई इमारतों के बारे में प्लान या नक्शे बनाने का शौक रखते हैं तो आर्किटेक्चर इंजीनियरिंग आपके लिए सबसे बढ़िया रास्ता है जो आपको आपकी मनचाही मंजिल तक ले जाने में आपकी सहायता करेगा।
पहले जान लेते हैं आर्किटेक्चर या वास्तुकला क्या है?
दोस्तो वास्तुकला ललितकला की ही एक शाखा है, व…

DPC क्या होती है? What is DPC?

दोस्तों नमस्कार
                        आज के इस लेख में हम बात करेंगे की डीपीसी क्या होती है? और इसकी घर बनाते वक्त क्या जरूरत है यानी दीवारों के ऊपर डीपीसी लगाने की हमें क्या जरूरत पड़ती है किस कारण या किस चीज़ की रोकथाम के लिए हम डीपीसी लगाते हैं। साधारण दीवार के ऊपर भी आप इसको लगा सकते हैं।
डीपीसी क्या होती है?
दोस्तों आइए पहले जान लेते हैं कि डीपीसी का मतलब क्या होता है डीपीसी का मतलब होता है "Dump Proofing Course" यानी नीवं ओर ऊपरी दीवार के बीच  का जुड़ाव कहे  या व्यवधान कह सकते हैं जो कि आप के घर की सीलन या नमि को दीवारों में ऊपर चढ़ने से रोकता है और आपकी जो दीवारें हैं सदैव अच्छी बनी रहती है। सीलन नहीं होगी तो आप जो प्लास्टर करते हैं पेंट करते हैं वह कभी नहीं झडेगा या उखड़ेगा,वह बिल्कुल सही रहता है हमेशा हमेशा लंबे समय तक टिकाऊ बना रहता है। 
डीपीसी की जरूरत क्या है हमें!
प्यारे मित्रों जो डीपीसी होती है वह दो प्रकार की आप यूज़ कर सकते हैं दोनों डीपीसी के प्रकार में आपको बताऊंगा कि कौन-कौन से प्रकार होते हैं देखिए सबसे पहले जब भी हम हमारे घर की नींव का निर्माण करते हैं उ…