Skip to main content

NEET/नीट परीक्षा पैटर्न 2020 कैसा होगा? How will be NEET Exam pattern for 2020?

दोस्तों नमस्कार, हमारे वेब पोर्टल पर आपका स्वागत है। आज की इस पोस्ट में हम NEET/National Eligibility cum Entrance Test के परीक्षा प्रपत्र प्रारूप/Pattern के बारे में जानेंगे कि कैसे होगा इस साल। मेडिकल की पढाई करने के इच्छुक विधार्थी साल 2020 में NEET की परीक्षा देने के लिए खुद को थोड़ा और तैयार करें। इस परीक्षा की तैयारी के लिए आपको NEET परीक्षा पैटर्न 2020 के बारे में जरूर पता होना चाहिए। इससे सम्बंधित महत्वपूर्ण जानकारी जैसे- पेपर मोड, भाषा, परीक्षा अवधि, प्रश्नों के प्रकार, अंक योजना, परीक्षा का प्रकार इत्यादि के बारे में आपको अच्छी तरह से पता होना चाहिए। बिना NEET परीक्षा पैटर्न  की जानकारी के इस परीक्षा की तैयारी करना आपके मन में शंका पैदा कर सकता है। 
NEET EXAM PATTERN, NEET 2020

NEET परीक्षा पैटर्न 2020 में यह बात उल्लेखित है की इस बार यह परीक्षा पेन और पेपर मोड यानि ऑफलाइन तरिके से ली जाएगी। ऑफलाइन होने के कारण उम्मीदवारों को ओएमआर/OMR शीट पर सही विकल्पों/Options का चुनाव करना होगा। इस प्रणाली में आपको ये ध्यान रखना होगा की एक बार किसी उत्तर को चिन्हित करने के बाद उसको बदला नहीं जा सकेगा। ऐसी गलती आपसे न हो इसके लिए आपको पहले से इसकी पूरी तैयारी करने की आवश्यकता है। NEET परीक्षा पैटर्न के अनुसार यह परीक्षा 3 घंटे की होगी। इसके पेपर में दिए गए सेलेबस के अनुसार भौतिक-विज्ञान, रसायन-विज्ञान और जीव-विज्ञान से 180 बहुविकल्पीय/MC प्रश्नों का उत्तर देना होगा। 

कब आयोजित होगी NEET 2020 सत्र की परीक्षा?
NEET 2020 एक सत्र और एक ही शिफ्ट में 3 मई को देश के 155 परीक्षा केंद्रों में आयोजित की जाएगी। NTA/राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी ने 21 अगस्त 2019 को नीट 2020 के लिए परीक्षा तारीखों की घोषणा कर दी थी। NEET में आवेदन करने की प्रक्रिया पूर्णत ऑनलाइन होगी, आवेदन करने की अंतिम तिथि 6 जनवरी 2020 तक थी जो अब बंद हो चुकी है। आवेदन करने के बाद उम्मीदवारों को आवेदन पत्र में सुधार करने की सुविधा दी जाएगी, जिसके द्वारा उम्मीदवार आवेदन में हुई गलतियां भी सुधार सकते हैं।

NEET परीक्षा पैटर्न से परिचित हो जाने पर उम्मीदवार द्वारा की जा रही तैयारी के प्रयासों को और ज्यादा ताकत मिलती है। साथ ही उनको इस बात का अंदाज़ा भी हो जाता है की परीक्षा में कैसे प्रश्न आ सकते हैं, उन प्रश्नों को हल करने में कितना वक़्त लग सकता है। किसी भी परीक्षा पैटर्न का सही से पता होने पर मन से एक भय ख़त्म हो जाता है, क्यूंकि उनकी इसके बारे में पहले से ही पता होता है। 

NEET Exam Pattern 2020 
एग्जाम पैटर्न में फैक्टर्स/Factors in Exam Pattern
उम्मीदवारों को ओएमआर/OMR  शीट दी जाती है जिस पर काले या नीले रंग के बॉल प्वाइंट पेन के साथ सही उत्तरों को चिह्नित करना होता है। 

विवरण :
परीक्षा की तारीख  -  3 मई, 2020
परीक्षा का मोड     -  पेन और पेपर आधारित, ऑफलाइन मोड 
परीक्षा अवधि        - 3 घंटे
प्रश्नों के प्रकार      - बहुविकल्पीय प्रश्न
भाषा/माध्यम        - अंग्रेजी, हिंदी, असमिया, बंगाली, गुजराती, मराठी, तमिल, तेलुगु, ओड़िया, कन्नड़ और उर्दू। NEET आवेदन पत्र भरने के दौरान प्रश्न पत्र के मीडियम/Medium अर्थात किस भाषा में प्रश्न पत्र चाहिए, इसका विकल्प अनिवार्य रूप से प्रयोग करना होता है, ताकि आप ऐच्छिक भाषा में प्रश्न-पत्र प् सकें। 

  • अंग्रेजी भाषा का चयन करने वाले उम्मीदवारों को केवल अंग्रेजी में ही NEET 2020 टेस्ट बुकलेट/Test Booklet  प्रदानकी जाएगी। 
  • हिंदी भाषा का चयन करने वाले छात्रों को अंग्रेजी और हिंदी में अर्थात एक द्विभाषी परीक्षा पुस्तिका/Test Booklet प्रदान की जाएगी।
  • क्षेत्रीय/Regional भाषाओं का चुनाव करने वाले सभी उम्मीदवारों को भी उनकी चयनित क्षेत्रीय भाषा और अंग्रेजी में एक द्विभाषी Test Booklet प्रदान की जाएगी।
नीट प्रश्नपत्र 2020
NEET 2020 प्रश्न-पत्र में कुल 180 बहुविकल्पीय/MCQ/Multiple Choice Questions प्रश्न होंगे। प्रत्येक प्रश्न के लिए 4 अंक निर्धारित किये गए हैं। इसमें नेगेटिव मार्किंग होती है, प्रत्येक गलत उत्तर पर 1 अंक काटा जाएगा, इसलिए उम्मीदवार परीक्षा में प्रश्न हल करते समय इस बात का विशेष ध्यान रखें। भाषा का माध्यम या विकल्प उम्मीदवार पर निर्भर होगा, क्योंकि NEET प्रश्न पत्र 8 क्षेत्रीय/Regional भाषाओं और अंग्रेजी, हिंदी के साथ-साथ उर्दू में भी उपलब्ध होगा। आपको यह ध्यान में रखना होगा कि क्षेत्रीय भाषा का चुनाव NEET 2020 परीक्षा केंद्र के आधार पर किया जाएगा।


Exam Section  :
पूर्णांक - 720 अंक

फिजिक्स - 45 प्रश्न - 180 अंक

केमिस्ट्री - 45 प्रश्न - 180 अंक

बायोलॉजी - 90 प्रश्न - 360 अंक

प्रश्नों की कुल संख्या - 180 प्रश्न

मार्किंग स्किम/Marking Scheme :
प्रत्येक सही उत्तर के लिए 4 अंक दिए जाएंगे, प्रत्येक गलत उत्तर के लिए 1 अंक काटा जाएगा। किसी भी अनुत्तरित प्रश्न के लिए न कोई अंक दिया जाएगा और न ही काटा जाएगा। 

NEET परीक्षा के किसी भी प्रश्न के अनुवाद में किसी भी अस्पष्टता के मामले में, NEET प्रश्न पत्र के अंग्रेजी संस्करण में लिखे शब्दों को ही अंतिम माना जाएगा।

तो दोस्तो आपको हमारी ये पोस्ट कैसी लगी हमें जरूर लिखे, आप पोस्ट के नीचे Comment Box  में अपनी प्रतिक्रियाएं ओर अगर कोई सुझाव है तो वो भी लिख कर भेज सकते हैं। साथ ही आप हमें हमारे द्वारा प्रकाशित नए लेख पढ़ने के लिए Subscribe भी कर सकते हैं।

Join us :
My Facebook :  Lee.Sharma
My YouTube : Home Design !deas

हमारे द्वारा लिखित और आर्टिकल यहाँ पढ़ें :

Comments

Popular posts from this blog

आर्मी ऑफिसर कैसे बने। how to become Indian Army officer, what is NDA?

प्यारे बच्चो नमस्कार
में हमारी इस ब्लॉग वेबसाइट पर टेक्नोलॉजी ओर एजुकेशन से संबंधित आर्टिकल लिखता हूँ, ऐसे आर्टिकल जो बच्चों के आने वाले भविष्य में काम आ सकें। हमारे आर्टिकल आपको किसी भी जॉब की पूर्ण जानकारी देने वाले होते हैं। हमारी इस जानकारी के माध्यम से बच्चे सही दिशा का चुनाव कर अपने भविष्य को सफल बना सकते हैं।

आज के इस आर्टिकल में हम बात करने वाले हैं कि आप भारतीय सेना में एक ऑफिसर कैसे बन सकते हैं, बेशक वो थल सेना, वायु सेना या जल सेना ही क्यों न हो। अगर आपमे देश सेवा करने का जज्बा है तो आप इस क्षेत्र का चुनाव कर सकते हैं, ऐसा नही की आपमे देश सेवा का जज्बा हो और आप इसमें जा सकते हैं, इसके लिए आपको बहुत मेहनत भी करनी पड़ेगी। अगर आप पढ़ाई में बहुत अच्छे हैं तभी आप इसमें सेलेक्ट हो सकते हैं। आइये जान लेते हैं NDA क्या है?
NDA यानी "National Defense Academy" ओर हिंदी में इसे "राष्ट्रीय रक्षा अकादमी" कहा जाता है, NDA दुनिया की पहली ऐसी अकादमी है जिसमे तीनो विंगों के लिए प्रशिक्षण दिया जाता है।
आर्मी अफसर कैसे बने!
भारतीय सेना की तीन विंग हैं, army, air force and navel, अ…

Architecture क्या है ? Architect कैसे बने!

दोस्तों नमस्कार, हमारी वेबसाइट/Website LSHOMETECH पर आपका स्वागत है, हम अपने इस Portal पर Technology और Education से सम्बंधित आर्टिकल लिखते हैं, जो आपके लिए ज्ञान और जानकारी के प्रयाय होते है, आज की इस पोस्ट में हम जानेंगे की Architect क्या होता है? कृपया पूरी जानकारी के लिए पूरी पोस्ट को पढ़ें, साथ ही टेक्नोलॉजी से जुडी किसी अन्य जानकारी के लिए आप हमारे वेबसाइट के बाईं/Left और दिए गए दूसरे आर्टिकल भी पढ़ सकते हैं।

आज का जो हमारा विषय है वो है आर्किटेक्ट कैसे बने और आर्किटेक्चर है क्या?  सबसे पहले इन दोनों शब्दों का हिंदी में अगर अनुवाद करे तो  आर्किटेक्चर का मतलब है - वास्तुकला
और  आर्किटेक्ट का मतलब है - वास्तुकार
यदि आपकी भी रुचि आर्किटेक्ट बनने की है, या फिर आपको भी नए-नए प्रारूप /डिजाइन बनाने का शौक है या फिर आप नई-नई इमारतों के बारे में प्लान या नक्शे बनाने का शौक रखते हैं तो आर्किटेक्चर इंजीनियरिंग आपके लिए सबसे बढ़िया रास्ता है जो आपको आपकी मनचाही मंजिल तक ले जाने में आपकी सहायता करेगा।
पहले जान लेते हैं आर्किटेक्चर या वास्तुकला क्या है?
दोस्तो वास्तुकला ललितकला की ही एक शाखा है, व…

DPC क्या होती है? What is DPC?

दोस्तों नमस्कार
                        आज के इस लेख में हम बात करेंगे की डीपीसी क्या होती है? और इसकी घर बनाते वक्त क्या जरूरत है यानी दीवारों के ऊपर डीपीसी लगाने की हमें क्या जरूरत पड़ती है किस कारण या किस चीज़ की रोकथाम के लिए हम डीपीसी लगाते हैं। साधारण दीवार के ऊपर भी आप इसको लगा सकते हैं।
डीपीसी क्या होती है?
दोस्तों आइए पहले जान लेते हैं कि डीपीसी का मतलब क्या होता है डीपीसी का मतलब होता है "Dump Proofing Course" यानी नीवं ओर ऊपरी दीवार के बीच  का जुड़ाव कहे  या व्यवधान कह सकते हैं जो कि आप के घर की सीलन या नमि को दीवारों में ऊपर चढ़ने से रोकता है और आपकी जो दीवारें हैं सदैव अच्छी बनी रहती है। सीलन नहीं होगी तो आप जो प्लास्टर करते हैं पेंट करते हैं वह कभी नहीं झडेगा या उखड़ेगा,वह बिल्कुल सही रहता है हमेशा हमेशा लंबे समय तक टिकाऊ बना रहता है। 
डीपीसी की जरूरत क्या है हमें!
प्यारे मित्रों जो डीपीसी होती है वह दो प्रकार की आप यूज़ कर सकते हैं दोनों डीपीसी के प्रकार में आपको बताऊंगा कि कौन-कौन से प्रकार होते हैं देखिए सबसे पहले जब भी हम हमारे घर की नींव का निर्माण करते हैं उ…