Skip to main content

भारत की सबसे साहसिक और खतरनाक कमांडो फाॅर्स/India's most adventurous and dangerous commando forces.

दोस्तों सबसे पहले तो आप सभी को मेरा प्यार भरा नमस्कार, किसी भी देश की सामरिक ताकत उसके जवान उसकी सेना होती है, इसलिए आज की इस पोस्ट में हम आपको  भारत की सबसे साहसिक और खतरनाक कमांडो फाॅर्स/India's most adventurous and dangerous commando forces के बारे में बताने वाले हैं, जो हमारे देश देश की सबसे ताकतवर सुरक्षा सर्विस है।
किसी भी देश को ताकतवर बनाने के पीछे उसकी स्पेशल फोर्सेस का हाथ होता है, सैन्य और रक्षा बल अपने देश का सम्मान और हमारे देश की पुरे विश्व में एक अलग पहचान बनाता हैं। भारतवर्ष में भी देश की सुरक्षा की जिम्मेदारी इन्हीं जवानों के हाथों में होती है। आज भारत आतंकी हमले से निपटने के लिए पूर्ण रूप से तैयार है। हाँ हम बात करने वाले हैं भारतीय कमांडो फाॅर्स के बारे में। ये वो फाॅर्स होती है जो हर वक़्त किसी भी आतंकी हमले से निपटने का जोहर रखते हैं। आप सभी को ये बात जानकार हैरानी होगी कि भारतीय कमांडो फोर्स को अलर्ट रहने के लिए और दुश्मन के अचानक हुए हमले से खुद को संभालने के लिए करीब आधे घंटे का वक़्त दिया जाता है। इसी लेख को आगे बढ़ते हुए हम जानेंगे की भारत के पास कोन-कोनसी कमांडो फाॅर्स है जो देश के लिए सदैव तत्पर रहती हैं। सबसे बड़ी बात इन कमांडो के पास सबसे घातक हथियार होते हैं। 


India's greatest commando forces.
आज हमारे देश में आठ सर्वश्रेष्ठ और खतरनाक कमांडो फाॅर्स है जिनके बारे में हम आगे जिक्र कर रहे हैं। 

NSG/National Security Guard/राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड। 
NSG कमांडो हमारे देश के लिए हर वक़्त किसी भी बड़ी मुशीबत या हमले से निपटने के लिए त्यार रहते हैं। NSG कमांडो को हर रोज काफी ज्यादा अभ्यास करना पड़ता है, क्यूंकि किसी भी वक़्त इनको किसी भी परिस्थिति से गुजरना पड़ सकता है। NSG कमांडो का इस्तेमाल विशेष परिस्थितियों में आतंकवादी गातिविधियों को निष्क्रिय करने जैसे कार्यो में इस्तेमाल किया जाता है। मुंबई ताज होटल हमले में इन्ही कमांडो ने मोर्चा संभाला था और आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ कर लोगों की रक्षा की थी। ये कमांडो फाॅर्स किसी भी विकत परिस्थिति का सामना करने में पारंगत होते हैं। 

Para Commando/पैरा कमांडो। 
इंडियन आर्मी की सबसे ज्यादा और प्रशिक्षित स्पेशल फोर्स है पैरा कमांडोज। भारतीय सेना के सिर्फ उन्हीं जवानों को इस फोर्स का हिस्सा बनाया जाता है, जो शारीरिक और मानसिक रूप से पूरी तरह से स्वस्थ और बहादूर होने के साथ-साथ समझदार भी होते हैं। पैरा कमांडोज के जिम्मे एंटी टेरर ऑपरेशन, ऑपरेशन बंधक समस्या और दुश्मन को तबाह करने जैसे मुश्किल कार्य आते हैं। इंडियन आर्मी के जवानो को पैरा कमांडो बनने के लिए बहुत मस्सकत करनी पड़ती है, तभी ये किसी भी समस्या से निपटने के लिए पारंगत बन पाते हैं। 

Garud Commando/गरुड़ कमांडो। 
ये कमांडो फाॅर्स भारतीय वायुसेना का एक हिस्सा है, गरुड़ कमांडो फोर्स देश की सबसे अत्याधुनिक और प्रशिक्षित कमांडो फोर्स में से है। गरुड़ कमांडो फाॅर्स में फ़िलहाल दो हज़ार एयर फाॅर्स कमांडो शामिल है। गरुड़ कमांडो फोर्स का हवाई क्षेत्र में हमला करने, ख़ुफ़िया तरिके से दुश्मन की टोह लेने, हवाई अटैक करने व किसी भी रेस्क्यू ऑपरेशन के लिए खास तौर पर तैयार किया जाता है। इस कमांडो फाॅर्स में सभी जवान जोशीले और समझदार होते हैं, किसी भी विकट परिस्थिति का सामना करने के लिए प्रशिक्षित होते हैं। 

Marcos Marine Commando/मार्कोस मरीन कमांडो। 
भारतीय जल सेना द्वारा त्यार मार्कोस कमांडो फाॅर्स बेहद ही चुस्त और फुर्तीली कमांडो फाॅर्स है। इनको धरती पर सबसे विकत परिस्थितियों में काम करने के लिए शारीरिक और मानसिक रूप से त्यार किया जाता है। मार्कोस मरीन कमांडो फाॅर्स को दाढ़ीवाला फाॅर्स के नाम से भी जाना जाता हैं। इन्हे जल मार्ग द्वारा या आम क्षेत्र में आतंकवादियों द्वारा की जा रही किसी भी सरगर्मी से निपटने के लिए सक्षम बनाया जाता है।  

Cobra Commando/कोबरा कमांडो। 
कोबरा कमांडो को भारत की सबसे बेहतरीन फोर्स में गिना जाता है। ये फोर्स CRPF/केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल की स्पेशल फोर्स है, इनको वेश बदलकर दुश्मन पर अटैक करने के लिए प्रशिक्षण दिया जाता है। इसके लिए इन्हें स्पेशल गोरिल्ला युद्ध प्रशिक्षण दिया जाता है। ये दुश्मन को घात लगाकर मारने में एक्सपर्ट/पारंगत होते हैं।  कोबरा कमांडो फोर्स के कारनामें हमेशा गुप्त ही होते हैं, इन्हें ज्यादातर नक्सालियों से लडऩे के लिए ही भेजा जाता है।

Ghatak Commando Force/घातक कमांडो फोर्स।  
घातक कमांडो फोर्स भी भारतीय सेना का ही एक हिस्सा है, इसे सबसे ज्यादा घातक फोर्स माना जाता है, और इसके लिए इन जवानो को कड़े स्तर पर प्रशिक्षित किया जाता है। इस फाॅर्स का इस्तेमाल सबसे ज्यादा दुश्मन के साथ आमने-सामने वाली लड़ाई में किया जाता है। घातक फोर्स के जवान इतने ज्यादा ताकतवर होते हैं कि यह एक जवान ही बहुत लोगों के लिए अकेला काफी है। इन सब का प्रशिक्षण भी पैरा कमांडोज फाॅर्स की तर्ज पर ही की जाती है।

Punjab Commando Force/पंजाब कमांडो फोर्स। 
पंजाब कमांडो फोर्स भारत की सबसे शक्तिशाली राज्य स्तरीय कमांडो फाॅर्स है। भारत में सबसे ज्यादा करीब 10 हजार आंतकियों को मारने का गौरव यदि किसी के पास है तो वह पंजाब कमांडो फाॅर्स के पास ही है। इस फाॅर्स के सभी जवानो को विकट से विकट परिस्थिति का सामना करने के लिया त्यार किया जाता है। अब तक इनका सबसे ज्यादा सामना आतंकवाद से ही हुआ है, पठानकोट हमलें में भी पंजाब कमांडो फोर्स ने अपना जोहर दिखाया था।
Kerala Commando Police Force/केरल कमांडो पुलिस फाॅर्स।  
ये भी भारत की एक राज्य स्तरीय कमंडोफोर्स है। केरल भारत का सबसे शिक्षित राज्य है फिर भी यहाँ पर बहुत ही नक्सलवाद है। यहां के कई सारे ऐसे गांव हैं जहां आज भी नक्सलियों का आतंक छाया हुआ है। इन गांवो की रक्षा करने और यहां के आतंकवाद को खत्म करने के लिए केरल कमांडो पुलिस फाॅर्स को बनाया गया था। इन कमांडोज को भी हर परिस्थिति का सामना करने के लिए त्यार किया जाता है क्यूंकि बहुत बार तो इनको पानी भी नहीं नसीब होता है। केरल कमांडो पुलिस फाॅर्स के कमांडों के लिए सबसे मुश्किल कार्य है यहां के जंगलों में गश्त करना, क्योंकि नक्सली लोग केवल पत्तों की आवाज सुनकर ही गोलियां चलाना शुरू कर देते हैं। ऐसे में इन सब हालातों से खुद को बचाने के लिए इन कमांडो की स्पेशल प्रशिक्षण दिया जाता है।

तो दोस्तों आशा करता हूँ की आपको हमारे द्वारा दी गई ये जानकारी पसंद आयी होगी। अगर इससे सम्बंधित आप कोई सलाह या सुझाव हमें देना चाहते हैं तो आपका स्वागत है। आप हमारे दूसरे आर्टिकल के लिए हमें सब्सक्राइब भी कर सकते हैं। आप हमें कमेंट करके बता भी सकते हैं कि आपको किसी विषय पर हमारी वेबसाइट पर जानकरी चाहिए, हम जल्द से जल्द वो जानकारी हमारी वेबसाइट पर आपके लिए उपलब्ध करने की कोशिश। हमारी इस जानकारी को दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें। धन्यवाद 
Join us :
My Facebook :  Lee.Sharma
My YouTube : Home Design !deas

हमारे और आर्टिकल यहाँ पढ़ें :


Comments

Popular posts from this blog

आर्मी ऑफिसर कैसे बने। how to become Indian Army officer, what is NDA?

प्यारे बच्चो नमस्कार
में हमारी इस ब्लॉग वेबसाइट पर टेक्नोलॉजी ओर एजुकेशन से संबंधित आर्टिकल लिखता हूँ, ऐसे आर्टिकल जो बच्चों के आने वाले भविष्य में काम आ सकें। हमारे आर्टिकल आपको किसी भी जॉब की पूर्ण जानकारी देने वाले होते हैं। हमारी इस जानकारी के माध्यम से बच्चे सही दिशा का चुनाव कर अपने भविष्य को सफल बना सकते हैं।

आज के इस आर्टिकल में हम बात करने वाले हैं कि आप भारतीय सेना में एक ऑफिसर कैसे बन सकते हैं, बेशक वो थल सेना, वायु सेना या जल सेना ही क्यों न हो। अगर आपमे देश सेवा करने का जज्बा है तो आप इस क्षेत्र का चुनाव कर सकते हैं, ऐसा नही की आपमे देश सेवा का जज्बा हो और आप इसमें जा सकते हैं, इसके लिए आपको बहुत मेहनत भी करनी पड़ेगी। अगर आप पढ़ाई में बहुत अच्छे हैं तभी आप इसमें सेलेक्ट हो सकते हैं। आइये जान लेते हैं NDA क्या है?
NDA यानी "National Defense Academy" ओर हिंदी में इसे "राष्ट्रीय रक्षा अकादमी" कहा जाता है, NDA दुनिया की पहली ऐसी अकादमी है जिसमे तीनो विंगों के लिए प्रशिक्षण दिया जाता है।
आर्मी अफसर कैसे बने!
भारतीय सेना की तीन विंग हैं, army, air force and navel, अ…

Architecture क्या है ? Architect कैसे बने!

दोस्तों नमस्कार, हमारी वेबसाइट/Website LSHOMETECH पर आपका स्वागत है, हम अपने इस Portal पर Technology और Education से सम्बंधित आर्टिकल लिखते हैं, जो आपके लिए ज्ञान और जानकारी के प्रयाय होते है, आज की इस पोस्ट में हम जानेंगे की Architect क्या होता है? कृपया पूरी जानकारी के लिए पूरी पोस्ट को पढ़ें, साथ ही टेक्नोलॉजी से जुडी किसी अन्य जानकारी के लिए आप हमारे वेबसाइट के बाईं/Left और दिए गए दूसरे आर्टिकल भी पढ़ सकते हैं।

आज का जो हमारा विषय है वो है आर्किटेक्ट कैसे बने और आर्किटेक्चर है क्या?  सबसे पहले इन दोनों शब्दों का हिंदी में अगर अनुवाद करे तो  आर्किटेक्चर का मतलब है - वास्तुकला
और  आर्किटेक्ट का मतलब है - वास्तुकार
यदि आपकी भी रुचि आर्किटेक्ट बनने की है, या फिर आपको भी नए-नए प्रारूप /डिजाइन बनाने का शौक है या फिर आप नई-नई इमारतों के बारे में प्लान या नक्शे बनाने का शौक रखते हैं तो आर्किटेक्चर इंजीनियरिंग आपके लिए सबसे बढ़िया रास्ता है जो आपको आपकी मनचाही मंजिल तक ले जाने में आपकी सहायता करेगा।
पहले जान लेते हैं आर्किटेक्चर या वास्तुकला क्या है?
दोस्तो वास्तुकला ललितकला की ही एक शाखा है, व…

DPC क्या होती है? What is DPC?

दोस्तों नमस्कार
                        आज के इस लेख में हम बात करेंगे की डीपीसी क्या होती है? और इसकी घर बनाते वक्त क्या जरूरत है यानी दीवारों के ऊपर डीपीसी लगाने की हमें क्या जरूरत पड़ती है किस कारण या किस चीज़ की रोकथाम के लिए हम डीपीसी लगाते हैं। साधारण दीवार के ऊपर भी आप इसको लगा सकते हैं।
डीपीसी क्या होती है?
दोस्तों आइए पहले जान लेते हैं कि डीपीसी का मतलब क्या होता है डीपीसी का मतलब होता है "Dump Proofing Course" यानी नीवं ओर ऊपरी दीवार के बीच  का जुड़ाव कहे  या व्यवधान कह सकते हैं जो कि आप के घर की सीलन या नमि को दीवारों में ऊपर चढ़ने से रोकता है और आपकी जो दीवारें हैं सदैव अच्छी बनी रहती है। सीलन नहीं होगी तो आप जो प्लास्टर करते हैं पेंट करते हैं वह कभी नहीं झडेगा या उखड़ेगा,वह बिल्कुल सही रहता है हमेशा हमेशा लंबे समय तक टिकाऊ बना रहता है। 
डीपीसी की जरूरत क्या है हमें!
प्यारे मित्रों जो डीपीसी होती है वह दो प्रकार की आप यूज़ कर सकते हैं दोनों डीपीसी के प्रकार में आपको बताऊंगा कि कौन-कौन से प्रकार होते हैं देखिए सबसे पहले जब भी हम हमारे घर की नींव का निर्माण करते हैं उ…