Skip to main content

ऑप्टिकल माउस क्या होता है, ओर कैसे काम करता है? What is an optical Mouse, and how it works?

दोस्तो नमस्कार, हमने अपने पिछले आर्टिकल में आपको माउस के बारे में विस्तार से बताया था कि माउस क्या होता है और ये कितने प्रकार के होते हैं, लेकिन आज हम आपको ऑप्टिकल माउस के बारे में ओर उसकी कार्यप्रणाली के बारे में जानकारी देने वाले है। इसी तरह के Technology ओर Education से जुड़े लेख पढ़ने के लिए आप हमें, सब्सक्राइब कर सकते हैं।
What is Optical Mouse?

Optical Mouse in Hindi:- कंप्यूटर में Mechanical ओर Optical माउस का प्रयोग होता है, लेकिन अब मैकेनिकल माउस का जमाना नहीं है, बदलती टेक्नोलॉजी के साथ अब Optical Mouse ज्यादा प्रयोग किये जाने लगे हैं।Optical Mouse वो माउस होता है, जो कि LED/Light Emitting Diode, ऑप्टिकल सेंसर, ओर DSP/Digital Signal Processing का प्रयोग Movement को Detect करने के लिए करता है। ऑप्टिकल माउस Reflected Light को Sense करके Movement को Track करता है। Optical Mouse को पहली बार साल 1999 में माइक्रोसॉफ्ट/Microsoft द्वारा पेश किया गया था।

Optical Mouse की कार्यप्रणाली।
ऑप्टिकल माउस के निचले हिस्से में एक छोटा सा कैमरा लगा होता है, जिसकी Per Second इमेज लेने की क्षमता 1500 Image तक होती है। इस कैमरे के अंदर एक CMOS/Complementary Metal-Oxide Semiconductor सेंसर लगा होता है, जो DSP को लगातार Light के माध्यम से सिग्नल भेजता है। ज्यादातर ऑप्टिकल माउस में लाल या नीली LED लाइट लगी हुई होती है, इसका कारण ये है कि Photodetector लाल और नीली लाइट के प्रति अधिक Sensitive होती है। DSP, Light Changing के इस Pattern को Analyze करता है, ओर उसके बाद Pattern के बदलाव के अनुसार ही माउस Cursor को कंप्यूटर Screen पर Move करता है। यह प्रक्रिया माउस सेंसर में एक सेकंड में सैंकड़ों बार होती है।

Advantage of Optical Mouse/ऑप्टिकल माउस की खूबियां। 

1. ऑप्टिकल माउस की कर्सर सटीकता/Accurecy बिल्कुल सही होती है, क्योंकि इस तरह के माउस के सेंसर मूवमेंट को Detect करने के लिए प्रति सेकंड 1500 Image तक लेते हैं। इस तरह के माउस को सही काम करने के लिए समतल सतह की जरूरत होती है।
2. ऑप्टिकल माउस का प्रयोग किसी भी तरह की सतह पर किया जा सकता है, जैसे- कपड़ों पर रखकर, किताब पर रखकर, या अन्य वस्तुवों पर रखकर इसे चला सकते हैं, यानी कि इसे चलाने के लिए Mouse Pad की जरूरत नहीं पड़ती है।

3. ये माउस Easy to Use होते हैं, यानी इन्हें प्रयोग करना बहुत ही आसान होता है, क्योंकि इन माउस में Ball ओर Sensors के Manipulation का उपयोग नहीं होता, जिसके कारण ये बेहतर ढंग से काम करता है।

4. ऑप्टिकल माउस में किसी भी तरह का Moving पार्ट नहीं होता, जिसके कारण ये बहुत ही विश्वसनीय होते हैं। इस तरह के माउस को बार-बार साफ करने की जरूरत नहीं होती।

5. ऑप्टिकल माउस अत्यंत संवेदनशील होते हैं। इनकी संवेदनशीलता बहुत ही उच्च स्तर की होती है।

Disadvantage of Optical Mouse/ऑप्टिकल माउस की कमी।
ऑप्टिकल माउस की सबसे बड़ी कमी यही है कि इसे आप शीशे/Glass की सतह पर नहीं चला सकते, क्योंकि शीशे पर इसके सेंसर शिथिल हो जाते हैं।

तो दोस्तों आशा करता हूँ की आपको हमारे द्वारा दी गई ये जानकारी पसंद आयी होगी। अगर इससे सम्बंधित आप कोई सलाह या सुझाव हमें देना चाहते हैं तो आपका स्वागत है। आप हमारे दूसरे आर्टिकल के लिए हमें सब्सक्राइब भी कर सकते हैं। आप हमें कमेंट करके बता भी सकते हैं कि आपको किसी विषय पर हमारी वेबसाइट पर जानकरी चाहिए, हम जल्द से जल्द वो जानकारी हमारी वेबसाइट पर आपके लिए उपलब्ध करने की कोशिश। हमारी इस जानकारी को दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें। धन्यवाद 
Join us :
My Facebook :  Lee.Sharma
My YouTube : Home Design !deas

हमारे और आर्टिकल यहाँ पढ़ें :



Comments

Popular posts from this blog

आर्मी ऑफिसर कैसे बने। how to become Indian Army officer, what is NDA?

प्यारे बच्चो नमस्कार
में हमारी इस ब्लॉग वेबसाइट पर टेक्नोलॉजी ओर एजुकेशन से संबंधित आर्टिकल लिखता हूँ, ऐसे आर्टिकल जो बच्चों के आने वाले भविष्य में काम आ सकें। हमारे आर्टिकल आपको किसी भी जॉब की पूर्ण जानकारी देने वाले होते हैं। हमारी इस जानकारी के माध्यम से बच्चे सही दिशा का चुनाव कर अपने भविष्य को सफल बना सकते हैं।

आज के इस आर्टिकल में हम बात करने वाले हैं कि आप भारतीय सेना में एक ऑफिसर कैसे बन सकते हैं, बेशक वो थल सेना, वायु सेना या जल सेना ही क्यों न हो। अगर आपमे देश सेवा करने का जज्बा है तो आप इस क्षेत्र का चुनाव कर सकते हैं, ऐसा नही की आपमे देश सेवा का जज्बा हो और आप इसमें जा सकते हैं, इसके लिए आपको बहुत मेहनत भी करनी पड़ेगी। अगर आप पढ़ाई में बहुत अच्छे हैं तभी आप इसमें सेलेक्ट हो सकते हैं। आइये जान लेते हैं NDA क्या है?
NDA यानी "National Defense Academy" ओर हिंदी में इसे "राष्ट्रीय रक्षा अकादमी" कहा जाता है, NDA दुनिया की पहली ऐसी अकादमी है जिसमे तीनो विंगों के लिए प्रशिक्षण दिया जाता है।
आर्मी अफसर कैसे बने!
भारतीय सेना की तीन विंग हैं, army, air force and navel, अ…

Architecture क्या है ? Architect कैसे बने!

दोस्तों नमस्कार, हमारी वेबसाइट/Website LSHOMETECH पर आपका स्वागत है, हम अपने इस Portal पर Technology और Education से सम्बंधित आर्टिकल लिखते हैं, जो आपके लिए ज्ञान और जानकारी के प्रयाय होते है, आज की इस पोस्ट में हम जानेंगे की Architect क्या होता है? कृपया पूरी जानकारी के लिए पूरी पोस्ट को पढ़ें, साथ ही टेक्नोलॉजी से जुडी किसी अन्य जानकारी के लिए आप हमारे वेबसाइट के बाईं/Left और दिए गए दूसरे आर्टिकल भी पढ़ सकते हैं।

आज का जो हमारा विषय है वो है आर्किटेक्ट कैसे बने और आर्किटेक्चर है क्या?  सबसे पहले इन दोनों शब्दों का हिंदी में अगर अनुवाद करे तो  आर्किटेक्चर का मतलब है - वास्तुकला
और  आर्किटेक्ट का मतलब है - वास्तुकार
यदि आपकी भी रुचि आर्किटेक्ट बनने की है, या फिर आपको भी नए-नए प्रारूप /डिजाइन बनाने का शौक है या फिर आप नई-नई इमारतों के बारे में प्लान या नक्शे बनाने का शौक रखते हैं तो आर्किटेक्चर इंजीनियरिंग आपके लिए सबसे बढ़िया रास्ता है जो आपको आपकी मनचाही मंजिल तक ले जाने में आपकी सहायता करेगा।
पहले जान लेते हैं आर्किटेक्चर या वास्तुकला क्या है?
दोस्तो वास्तुकला ललितकला की ही एक शाखा है, व…

DPC क्या होती है? What is DPC?

दोस्तों नमस्कार
                        आज के इस लेख में हम बात करेंगे की डीपीसी क्या होती है? और इसकी घर बनाते वक्त क्या जरूरत है यानी दीवारों के ऊपर डीपीसी लगाने की हमें क्या जरूरत पड़ती है किस कारण या किस चीज़ की रोकथाम के लिए हम डीपीसी लगाते हैं। साधारण दीवार के ऊपर भी आप इसको लगा सकते हैं।
डीपीसी क्या होती है?
दोस्तों आइए पहले जान लेते हैं कि डीपीसी का मतलब क्या होता है डीपीसी का मतलब होता है "Dump Proofing Course" यानी नीवं ओर ऊपरी दीवार के बीच  का जुड़ाव कहे  या व्यवधान कह सकते हैं जो कि आप के घर की सीलन या नमि को दीवारों में ऊपर चढ़ने से रोकता है और आपकी जो दीवारें हैं सदैव अच्छी बनी रहती है। सीलन नहीं होगी तो आप जो प्लास्टर करते हैं पेंट करते हैं वह कभी नहीं झडेगा या उखड़ेगा,वह बिल्कुल सही रहता है हमेशा हमेशा लंबे समय तक टिकाऊ बना रहता है। 
डीपीसी की जरूरत क्या है हमें!
प्यारे मित्रों जो डीपीसी होती है वह दो प्रकार की आप यूज़ कर सकते हैं दोनों डीपीसी के प्रकार में आपको बताऊंगा कि कौन-कौन से प्रकार होते हैं देखिए सबसे पहले जब भी हम हमारे घर की नींव का निर्माण करते हैं उ…