Skip to main content

WWW/World Wide Web क्या है, इसका अविष्कार किसने किया? What is WWW?

WWW/World Wide Web क्या है, इसका अविष्कार किसने किया? What is WWW?
आधुनिक समय टेक्नोलॉजी पर आधारित है, इसमें सबसे ज्यादा इंटरनेट टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल होता है, और जब भी हम इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं तब हम कोई न कोई वेबसाइट या एप्लीकेशन के माध्यम से कुछ जरुरी जानकारी पाते हैं या मनोरंजन के लिए इसका इस्तेमाल करते हैं। जब भी हम इंटरनेट पर कुछ जानकारी पाना चाहते हैं, तब किसी भी वेबसाइट को खोलने के लिए उसका यूआरएल/URL/Uniform Resources Locator डालते हैं, और इसे टाइप करने के लिए आप सबसे पहले WWW लिखते हैं, उसके बाद वेबसाइट का एड्रेस लिखते है। अब बात आती है की किसी भी वेबसाइट के शुरू में लगने वाला ये WWW क्या होता है? आज के इस आर्टिकल में मैं आपको WWW से सम्बंधित पूरी जानकरी दूंगा। कृपया पूरी जानकारी के लिए पोस्ट को पूरा पढ़ें। 
who invent WWW?

WWW क्या है ? इंटरनेट में इसका उपयोग क्या है।
सबसे पहले मैं आपको बता दूँ की WWW का मतलब World Wide Web होता है। WWW का मकसद इंटरनेट/Internet के साथ जुड़कर ही पूरा होता है, यानि ये दोनों एक दूसरे के पूरक होते हैं, लेकिन इन दोनों की Functionality में अंतर होता है। जहाँ एक तरफ Internet के माध्यम से लाखों-करोड़ों कंप्यूटर का जाल एक Network के रूप में पूरी दुनिया में फैला हुआ है, वहीँ WWW यानि World Wide Web इंटरनेट नेटवर्क पर पाए जाने वाले Web-Page का बहुत ही बड़ा जाल है। अगर आसान शब्दों में बात की जाये तो World Wide Web इंटरनेट पर जुड़े किन्ही भी कंप्यूटर के बिच Information Exchange करने का एक तरीका होता है। आइये जान लेते हैं WWW से जुडी कुछ रोचक जानकारी।  

World Wide Web जिसको हम WWW और Web के रूप में जानते हैं, असल में ये इंटरनेट पर मौजूद एक Information Space होता है, जहाँ पर डॉक्यूमेंट/Document और दूसरे Web संसाधनों की पहचान हाइपरलिंक/Hyperlink Text द्वारा इंटरलिंक करके की जाती हैं। इंटरनेट पर हम इसे URL के माध्यम से Access कर सकते हैं। WWW को इंटरनेट पर मौजूद Content का नेटवर्क भी कहा जाता है, जो की HTML फॉर्मेट में होता है और जिसे HTTP या HTTPS के माध्यम से भी Access किया जाता है। असल में ये एक प्रकार का Virtual संसार है, जहाँ पर दुनिया के सारे We Page, Web Server, Website को HTTP Protocol के माध्यम से Access किया जाता है। 

WWW का इतिहास/ History of WWW 
WWW का आविष्कार साल 1989 में ब्रिटिश Computer Scientist, Sir Tim Berners-Lee ने किया था। London में अपनी Graduation की पढ़ाई पूरी करने के बाद Lee जब एक Software Engineer बने तब उन्होंने देखा कि Scientist को किसी Information को Share करने में काफी दिक्कत आ रही थी। इसी विषय पर शोध करते हुए उन्होंने March 1989 में Information Managment : A proposal नामक एक दस्तावेज/Document  के माध्यम से Web निर्माण से सम्बंधित अपनी राय रखी। उनकी इस राय को उनके बॉस Mike Sendall द्वारा कुछ समय के लिए ऐसे ही छोड़ दिया गया, लेकिन वो Sir Tim Berners-Lee के प्रस्ताव से प्रभावित जरूर हो गये थे। कुछ समय बाद Mike Sendall ने साल 1990 में Lee को इस प्रोजेक्ट/Project पर काम करने के लिये स्वीकृति प्रदान की। इस Project को Sir Tim Berners-Lee ने Steve Jobs द्वारा तैयार किये गए कंप्यूटर NeXT पर बनाया था। साल 1990 के अंत तक Sir Tim Berners ने तीन प्रमुख Fundamantel Technology को लिखा, जिनके नाम थे HTML, URL और HTTP जो आज वर्ल्ड वाइड वेब की नीवं है। 

World Wide Web काम कैसे करता है? How WWW Works?
इंटरनेट पर मौजूद जानकारी को ढूंढने और Share करने के लिए Web बहुत सी Internal Technologies का इस्तेमाल करता है, जिनमे Web-Browser, Web Server, Website, Web Page, HTML/HyperText Markup Language और HTTP/HyperText Transport Protocol शामिल होते हैं। जब कोई भी इंटरनेट यूजर किसी भी वेब डॉक्यूमेंट को खोलता है तो उसके लिए यूजर को Web Browser का इस्तेमाल करना पड़ता है। इस Web Browser के Adders Bar में आपको किसी भी वेबसाइट का Domain एड्रेस टाइप करना होता है। उसके बाद ब्राउज़र HTTP के Domain को World Wide Web में ढूंढता है, और साथ में ही डोमेन नाम को एक Server IP Address में Convert करता है। उसके बाद WWW उसे Host Server में सर्च करता है, अगर वहां आपका Domain Name पेज के साथ Match हो जाता है तो वहां से वो Website या Web Page सीधा आपके ब्राउज़र की स्क्रीन पर आपके सामने आता है। 

Web Browser क्या होता है? What is Web Browser?
जब भी आप किसी भी वेब पेज को खोलना चाहते हैं, उसके लिए आपको सबसे पहले Web-Browser की जरुरत होती है। Browser ऐसे कंप्यूटर प्रोग्राम होते हैं जो इंटरनेट पर मौजूद Text, Image, Animation और Videos आपको दिखा सकते हैं। शुरूआती दौर में वेब ब्राउज़र केवल वेब Surrfing के काम ही आते थे, लेकिन आधुनिक वेब ब्राउज़र काफी विकसित हो गए हैं। वेब ब्राउज़र का इस्तेमाल मुख्यत: Hyperlink किये गए Text पर क्लिक करके उसे ब्राउज़र में ओपन करने के लिए किया जाता है। आजकल सबसे प्रमुख Web Browser है Google Chrome, Internet Explorer, Mozila Firefox, Safari Browser, Opera Browser इत्यादि। 

URL क्या होता है? What is URL?
इंटरनेट पर किसी भी Web Address को खोलने के लिए हमें किसी भी Browser के Address Bar में Domain Name के साथ अंतर करना होता है, जब हमारा पेज खुल जाता है तब आप उस पेज के डोमेन को Browser के Address Bar से कॉपी करेंगे तो वो URL/Uniform Resources Locator बन जाता है। जैसे-https://www.lshometech.com जैसे ही आप इस URL को एड्रेस बार में एंटर करते हैं, तो ये इस एड्रेस को Server के IP Address में बदल देता है, और आपके सामने उचित पेज लाने के लिए Request करता है।

दोस्तों हमारा देश टेक्नोलॉजी के मामले में आज बहुत तरक्की कर रहा है, वहीँ हमारे देश में कुछ लोग ऐसे भी हैं जिनको अभी तक टेक्नोलॉजी का इतना ज्ञान नहीं है, इसलिए मैं चाहता हूँ की इस ज्ञान को लोगों तक पहुँचाया जाये। मेरा ब्लॉग लिखने का मकसद यही है की मैं ज्यादा से ज्यादा जानकारी लोगों तक पहुंचा सकूं। हमारी इस जानकारी को लोगो तक पहुंचाने के लिए आप सभी पाठकों का सहयोग अपेक्षित है। आप भी इसे शेयर करके ज्यादा लोगों तक पहुंचा सकते हैं, तो दोस्तों आशा करता हूँ की आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया होगा। अगर इससे सम्बंधित आप कोई सलाह या सुझाव हमें देना चाहते हैं तो आपका स्वागत है। आप हमारे दूसरे आर्टिकल के लिए हमें सब्सक्राइब भी कर सकते हैं।


Join us :
My Facebook :  Lee.Sharma
My YouTube : Home Design !deas

हमारे और आर्टिकल यहाँ पढ़ें :

Comments

Popular posts from this blog

आर्मी ऑफिसर कैसे बने। how to become Indian Army officer, what is NDA?

प्यारे बच्चो नमस्कार
में हमारी इस ब्लॉग वेबसाइट पर टेक्नोलॉजी ओर एजुकेशन से संबंधित आर्टिकल लिखता हूँ, ऐसे आर्टिकल जो बच्चों के आने वाले भविष्य में काम आ सकें। हमारे आर्टिकल आपको किसी भी जॉब की पूर्ण जानकारी देने वाले होते हैं। हमारी इस जानकारी के माध्यम से बच्चे सही दिशा का चुनाव कर अपने भविष्य को सफल बना सकते हैं।

आज के इस आर्टिकल में हम बात करने वाले हैं कि आप भारतीय सेना में एक ऑफिसर कैसे बन सकते हैं, बेशक वो थल सेना, वायु सेना या जल सेना ही क्यों न हो। अगर आपमे देश सेवा करने का जज्बा है तो आप इस क्षेत्र का चुनाव कर सकते हैं, ऐसा नही की आपमे देश सेवा का जज्बा हो और आप इसमें जा सकते हैं, इसके लिए आपको बहुत मेहनत भी करनी पड़ेगी। अगर आप पढ़ाई में बहुत अच्छे हैं तभी आप इसमें सेलेक्ट हो सकते हैं। आइये जान लेते हैं NDA क्या है?
NDA यानी "National Defense Academy" ओर हिंदी में इसे "राष्ट्रीय रक्षा अकादमी" कहा जाता है, NDA दुनिया की पहली ऐसी अकादमी है जिसमे तीनो विंगों के लिए प्रशिक्षण दिया जाता है।
आर्मी अफसर कैसे बने!
भारतीय सेना की तीन विंग हैं, army, air force and navel, अ…

Architecture क्या है ? Architect कैसे बने!

दोस्तों नमस्कार, हमारी वेबसाइट/Website LSHOMETECH पर आपका स्वागत है, हम अपने इस Portal पर Technology और Education से सम्बंधित आर्टिकल लिखते हैं, जो आपके लिए ज्ञान और जानकारी के प्रयाय होते है, आज की इस पोस्ट में हम जानेंगे की Architect क्या होता है? कृपया पूरी जानकारी के लिए पूरी पोस्ट को पढ़ें, साथ ही टेक्नोलॉजी से जुडी किसी अन्य जानकारी के लिए आप हमारे वेबसाइट के बाईं/Left और दिए गए दूसरे आर्टिकल भी पढ़ सकते हैं।

आज का जो हमारा विषय है वो है आर्किटेक्ट कैसे बने और आर्किटेक्चर है क्या?  सबसे पहले इन दोनों शब्दों का हिंदी में अगर अनुवाद करे तो  आर्किटेक्चर का मतलब है - वास्तुकला
और  आर्किटेक्ट का मतलब है - वास्तुकार
यदि आपकी भी रुचि आर्किटेक्ट बनने की है, या फिर आपको भी नए-नए प्रारूप /डिजाइन बनाने का शौक है या फिर आप नई-नई इमारतों के बारे में प्लान या नक्शे बनाने का शौक रखते हैं तो आर्किटेक्चर इंजीनियरिंग आपके लिए सबसे बढ़िया रास्ता है जो आपको आपकी मनचाही मंजिल तक ले जाने में आपकी सहायता करेगा।
पहले जान लेते हैं आर्किटेक्चर या वास्तुकला क्या है?
दोस्तो वास्तुकला ललितकला की ही एक शाखा है, व…

DPC क्या होती है? What is DPC?

दोस्तों नमस्कार
                        आज के इस लेख में हम बात करेंगे की डीपीसी क्या होती है? और इसकी घर बनाते वक्त क्या जरूरत है यानी दीवारों के ऊपर डीपीसी लगाने की हमें क्या जरूरत पड़ती है किस कारण या किस चीज़ की रोकथाम के लिए हम डीपीसी लगाते हैं। साधारण दीवार के ऊपर भी आप इसको लगा सकते हैं।
डीपीसी क्या होती है?
दोस्तों आइए पहले जान लेते हैं कि डीपीसी का मतलब क्या होता है डीपीसी का मतलब होता है "Dump Proofing Course" यानी नीवं ओर ऊपरी दीवार के बीच  का जुड़ाव कहे  या व्यवधान कह सकते हैं जो कि आप के घर की सीलन या नमि को दीवारों में ऊपर चढ़ने से रोकता है और आपकी जो दीवारें हैं सदैव अच्छी बनी रहती है। सीलन नहीं होगी तो आप जो प्लास्टर करते हैं पेंट करते हैं वह कभी नहीं झडेगा या उखड़ेगा,वह बिल्कुल सही रहता है हमेशा हमेशा लंबे समय तक टिकाऊ बना रहता है। 
डीपीसी की जरूरत क्या है हमें!
प्यारे मित्रों जो डीपीसी होती है वह दो प्रकार की आप यूज़ कर सकते हैं दोनों डीपीसी के प्रकार में आपको बताऊंगा कि कौन-कौन से प्रकार होते हैं देखिए सबसे पहले जब भी हम हमारे घर की नींव का निर्माण करते हैं उ…